सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

boolean algebra in hindi

Logic gates in hindi

 आज हम computers in hindi मे Logic gates in hindi - computer system architecture in hindi के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- 

Logic Gates in hindi:-

logic gate definition in hindi:-

Logic Gates डिजिटल कंप्यूटर में बाइनरी सूचना को Physical quantities द्वारा display जाता है जिन्हें सिग्नल (Signal) कहा जाता है। वोल्टेज जैसे विद्युत संकेत पूरे कंप्यूटर में एक या दो पहचानने Eligible states में से किसी एक में मौजूद होते हैं।दो States Binary variable का representation करते हैं जो 1 या 0 के बराबर हो सकता है। 

Example of logic gates in hindi:-

विशेष डिजिटल कंप्यूटर बाइनरी 0 का representation करने के लिए बाइनरी 1 और 0.5 वोल्ट का representation करने के लिए 3 वोल्ट का Signal employed कर सकता है। डिजिटल सर्किट के input terminal binary accept करते हैं 3 और 0.5 वोल्ट के सिग्नल और सर्किट क्रमशः 1 और 0 के Analog binary input और output का representation करने के लिए 3 और 0.5 वोल्ट के सिग्नल के साथ  Output terminals पर reaction करते हैं।

बाइनरी लॉजिक Binary variables और Operations से releted है जो Logical meaning ग्रहण करते हैं। इसका उपयोग Algebraic रूप में, Binary information के हेरफेर और Processing का description करने के लिए किया जाता है। Binary information का हेरफेर लॉजिक सर्किट द्वारा किया जाता है जिसे gates कहा जाता है। 

Gates हार्डवेयर के ब्लॉक होते हैं जो इनपुट लॉजिक आवश्यकताओं को पूरा करने पर बाइनरी 1 या 0 के Signal generated करते हैं। डिजिटल कंप्यूटर सिस्टम में आमतौर पर विभिन्न प्रकार के लॉजिक gates का उपयोग किया जाता है। प्रत्येक gate का एक अलग Graphic symbol होता है और इसके Operations को Algebraic expression के माध्यम से described किया जा सकता है। प्रत्येक gate के लिए Binary variable के इनपुट-आउटपुट releted को एक Truth table द्वारा display किया जाता है। 

 1. AND logic gate in hindi:-

कई इनपुट के साथ हैं और एक इनपुट के साथ नहीं हैं। एक से अधिक इनपुट वाला प्रत्येक gate अपने किसी भी इनपुट पर Logic 0 या Logic 1 इनपुट के प्रति Sensitive होता है, जिससे उसके कार्य के अनुसार आउटपुट generat होता है। 

AND गेट AND, logic function generate करता है यदि आउटपुट 1 है यदि इनपुट A और इनपुट बेयर दोनों 1 के बराबर हैं; अन्यथा, आउटपुट 0 है। आउटपुट x केवल 1 है जब इनपुट A और इनपुट B दोनों 1 हैं। AND गेट में दो से अधिक इनपुट हो सकते हैं।आउटपुट 1 है यदि और केवल यदि सभी इनपुट 1 हैं।

हम या तो वेरिएबल्स के बीच एक डॉट (.) का उपयोग कर सकते हैं या Variables को उनके बीच एक Operation symbol के बिना जोड़ सकते हैं। 

Example:- एक मल्टी-इनपुट और गेट अपने किसी एक इनपुट पर लॉजिक 0 के प्रति Sensitive होता है, भले ही अन्य इनपुट पर कोई मान कुछ भी हो।

and gate in hindi

2. OR logic gate in hindi:-

OR gate Inclusive या function generated करता है; यानी, आउटपुट 1 है यदि इनपुट A या इनपुट B या दोनों इनपुट 1 हैं; अन्यथा, आउटपुट 0 है। OR function का Algebraic symbol Arithmetic addition के समान + है। या गेट में दो से अधिक इनपुट हो सकते हैं, और यदि कोई इनपुट 1 है तो आउटपुट 1 है।
Or logic gate in hindi

3. Inverter/NOT logic gate in hindi:-

Inverter यह Circuit binary signal को Logic sense को उल्टा कर देता है। यह NOT, या पूरक, फ़ंक्शन का उत्पादन करता है। एसमे केवल एक Input और एक output होता है।
Inverter/ Not logic gates in hindi

4. Buffer logic gate in hindi:-

A buffer  किसी Special logic function का production नहीं करता है क्योंकि आउटपुट का Binary value इनपुट के Binary value के same है। 
क के  आउटपुट में छोटा वृत्त एक तर्क पूरक को निर्दिष्ट करता है। एक त्रिभुज प्रतीक अपने आप में एक बफर सर्किट को नामित करता है। 
 Example:- एक buffer जो बाइनरी 1 के लिए 3 वोल्ट का उपयोग करता है, 3 वोल्ट का आउटपुट देगा जब उसका इनपुट 3 वोल्ट होगा।
Buffer logic gate in hindi

5. NAND logic gate in hindi:-

NAND function, AND function का उल्टा  है। इसमें दो या अधिक इनपुट और एक आउटपुट होते हैं।इसमें सारे इनपुट 1 हो तब आउटपुट 0 होगा। और सारी condition मे आउटपुट 0 होगा। इस gate को हम universal logic gate भी कह सकते हैं। क्योकी इससे ओर सारे logic gates आसानी से create किया जा सकता हैं।
NAND LOGIC gate in hindi

5. NOR logic gate in hindi:-

NOR gate, OR gate का उल्टा है । NAND और NOR दोनों मे दो से अधिक इनपुट हो सकते हैं, और आउटपुट हमेशा AND या or function का उल्टा होता है।
Nor LOGIC gate in hindi

6. Exclusive-OR gate in hindi:-

एक्सक्लूसिव-OR गेट में आउटपुट 1 है यदि कोई इनपुट 1 है।इस gate से इनपुट के ture होने पर आउटपुट उल्टा false होता है। दोनो इनपुट ture होने पर या false होने पर आउटपुट ture होता है।
universal gate in hindi

7. Exclusive-NOR or equivalence logic gate in hindi:-

Exclusive-NOR or equivalence logic gate in hindi : universal gate in hindi





  

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

foxpro commands in hindi

आज हम computers in hindi मे  foxpro commands  क्या होता है उसके कार्य के बारे मे जानेगे?   foxpro all commands in hindi  में  तो चलिए शुरु करते हैं-   foxpro commands in hindi:-  (1) Clear command in foxpro in hindi:-  इस  command  का प्रयोग  foxpro  की main स्क्रीन ( जहां रिकॉर्ड्स / Output प्रदर्शित होते हैं ) को Clear करने के लिए किया जाता है ।  (2) Modify Structure in foxpro in hindi :-  इस  command  का प्रयोग वर्तमान प्रयुक्त  डेटाबेस  फाईल के स्ट्रक्चर में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए किया जाता है । इसके द्वारा नये फील्ड भी जोड़े जा सकते हैं तथा पुराने फील्ड्स को हटाया व उनके साईज़ में भी परिवर्तन किया जा सकता है ।  (3) Rename in foxpro in hindi :-  इस  command  के द्वारा किसी  database  file का नाम बदला जा सकता है जिस फाईल को Rename करना हो वह मैमोरी में खुली नहीं होनी चाहिए ।   Syntax : Rename < Old filename > to < New filename >  Foxpro example: -  Rename Student.dbf to St.dbf (4) Copy file in foxpro in hindi :- इस command के द्वारा किसी एक डेटाबेस फाईल के रिकॉ

foxpro data type in hindi । फॉक्सप्रो

 आज हम computers in hindi मे फॉक्सप्रो क्या है?  Foxpro data type in hindi  कार्य के बारे मे जानेगे? How many data types are available in foxpro?    में  तो चलिए शुरु करते हैं-    How many data types are available in foxpro? ( फॉक्सप्रो में कितने डेटा प्रकार उपलब्ध हैं?):- FoxPro में बनाई गई डेटाबेस फाईल का एक्सटेन्शन नाम .dbf होता है । foxpro data type in hindi (फॉक्सप्रो डेटा प्रकार) :- Character data type Numeric data type Float data type Date data type Logical data type Memo data type General data type 1. Character data type :- Character data type  की फील्ड में अधिकतम 254 Character store किये जा सकते हैं । इस टाईप की फील्ड में अक्षर जैसे ( A , B , C , .......Z ) ( a , b , c , ...........z ) तथा इसके साथ ही न्यूमेरिक अंक ( 0-9 ) व Special Character ( + , - , / . x , ? , = ; etc ) आदि भी Store करवाए जा सकते हैं । इस प्रकार की फील्ड का प्रयोग नाम , पता , फोन नम्बर , शहर का नाम , पिता का नाम , माता का नाम आदि संग्रहित करने के लिए किया जाता है । 2. Numeric data type :- Numeric da

कंप्यूटर की पीढियां । generation of computer in hindi language

generation of computer in hindi  :- generation of computer in hindi language ( कम्प्युटर की पीढियाँ):- कम्प्यूटर तकनीकी विकास के द्वारा जो कम्प्यूटर के कार्यशैली तथा क्षमताओं में विकास हुआ इसके फलस्वरूप कम्प्यूटर विभिन्न पीढीयों तथा विभिन्न प्रकार की कम्प्यूटर की क्षमताओं के निर्माण का आविष्कार हुआ । कार्य क्षमता के इस विकास को सन् 1964 में कम्प्यूटर जनरेशन (computer generation) कहा जाने लगा । इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर के विकास को सन् 1946 से अब तक पाँच पीढ़ियों में वर्गीकृत किया जा सकता है । प्रत्येक नई पीढ़ी की शुरुआत कम्प्यूटर में प्रयुक्त नये प्रोसेसर , परिपथ और अन्य पुर्षों के आधार पर निर्धारित की जा सकती है । ● First Generation of computer in hindi  (कम्प्युटर की प्रथम पीढ़ी) : Vacuum Tubes ( वैक्यूम ट्यूब्स) ( 1946 - 1958 ):- प्रथम इलेक्ट्रॉनिक ' कम्प्यूटर 1946 में अस्तित्व में आया था तथा उसका नाम इलैक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इन्टीग्रेटर एन्ड कैलकुलेटर ( ENIAC ) था । इसका आविष्कार जे . पी . ईकर्ट ( J . P . Eckert ) तथा जे . डब्ल्यू . मोश्ले ( J . W .