Skip to main content

Posts

array in hindi । what is array in hindi

 आज हम Array (ऐरे) के बारे मे जानेगे Array (ऐरे) क्या होते है? और array कितने प्रकार के होते हैं? तो चलिए शुरु करते हैं:- ऐरे क्या होते हैं? (What is array in hindi):- Array(ऐरे) एक ही टाइप के वेरियबल का ग्रुप होता है यह अपने वैरिएबल्स के लिए मैमोरी में लगातार स्पेस लेता है । इन वैरिएबल्स का नाम तो एक ही होता है , परन्तु इनका इंडैक्स नम्बर अलग - अलग होता है । इन वैरिएबल्स की वैल्यू को इनके नाम तथा इंडैक्स नम्बर के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है । इसकी सहायता से प्रोग्रामर को एक ही प्रकार के कई वैरिएबल्स बनाने व उनके नाम याद रखने की आवश्यकता नही होती है ।  Array example: - dimension arr(10) अब हम arr नाम के वेरिएबल में integer टाइप की 10 वैल्यू को स्टोर कर सकते है। types of array :-  दो प्रकार की ऐरे का प्रयोग किया जाता है। 1.  Single Dimensional Array 2. Two Dimensional Array 1. Single Dimensional Array:- यह एक ही प्रकार की वैल्यू को स्टोर करने वाले वैरिएबल्स का एक समूह होता है जो कि एक लाइन में वैल्यूज़ को स्टोर करता है। Array  एक वैरिएबल की भांति ही वैल्यूज़ को स्टोर करने का कार्य
Recent posts

foxpro data type in hindi । फॉक्सप्रो

 आज हम  फॉक्सप्रो क्या है?  Foxpro data type in hindi  कार्य के बारे मे जानेगे? How many data types are available in foxpro?    में  तो चलिए शुरु करते हैं-    How many data types are available in foxpro? ( फॉक्सप्रो में कितने डेटा प्रकार उपलब्ध हैं?):- FoxPro में बनाई गई डेटाबेस फाईल का एक्सटेन्शन नाम .dbf होता है । foxpro data type in hindi (फॉक्सप्रो डेटा प्रकार) :- Character data type Numeric data type Float data type Date data type Logical data type Memo data type General data type 1. Character data type :- Character data type  की फील्ड में अधिकतम 254 Character store किये जा सकते हैं । इस टाईप की फील्ड में अक्षर जैसे ( A , B , C , .......Z ) ( a , b , c , ...........z ) तथा इसके साथ ही न्यूमेरिक अंक ( 0-9 ) व Special Character ( + , - , / . x , ? , = ; etc ) आदि भी Store करवाए जा सकते हैं । इस प्रकार की फील्ड का प्रयोग नाम , पता , फोन नम्बर , शहर का नाम , पिता का नाम , माता का नाम आदि संग्रहित करने के लिए किया जाता है । 2. Numeric data type :- Numeric data type  की फील्ड में

foxpro commands in hindi

आज हम  foxpro commands  क्या होता है उसके कार्य के बारे मे जानेगे?   foxpro all commands in hindi  में  तो चलिए शुरु करते हैं-   foxpro commands in hindi:-  (1) Clear command in foxpro in hindi:-  इस  command  का प्रयोग  foxpro  की main स्क्रीन ( जहां रिकॉर्ड्स / Output प्रदर्शित होते हैं ) को Clear करने के लिए किया जाता है ।  (2) Modify Structure in foxpro in hindi :-  इस  command  का प्रयोग वर्तमान प्रयुक्त  डेटाबेस  फाईल के स्ट्रक्चर में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए किया जाता है । इसके द्वारा नये फील्ड भी जोड़े जा सकते हैं तथा पुराने फील्ड्स को हटाया व उनके साईज़ में भी परिवर्तन किया जा सकता है ।  (3) Rename in foxpro in hindi :-  इस  command  के द्वारा किसी  database file का नाम बदला जा सकता है जिस फाईल को Rename करना हो वह मैमोरी में खुली नहीं होनी चाहिए ।   Syntax : Rename < Old filename > to < New filename >  Foxpro example: -  Rename Student.dbf to St.dbf (4) Copy file in foxpro in hindi :- इस command के द्वारा किसी एक डेटाबेस फाईल के रिकॉर्ड्स को किसी अन्य डेटाब

various phases of system development in hindi । sdlc in hindi

 System development life cycle in hindi ( sdlc in hindi):- सिस्टम् डवलपमेन्ट लाइफ साइकिल ( sdIc ) एक ट्रेडिश्नल डवलपमेन्ट मेथड है । जो आजकल अधिकतर सगंठन द्वारा प्रयोग किया जाता है । एक स्ट्रक्चर डवलपमेन्ट है । जो सिक्वेन्शियल प्रोसेस की बनी हुई होती है । जिनके द्वारा इंफॉरमेशन सिस्टम को डवलप किया जाता है । इसके अन्तर्गत कई घटक आते है । जैसे - सिस्टम स्टडी , फिजिबिलीटी स्टडी , सिस्टम ऐनालिसिस , सिस्टम डिजाइनिंग आदि । इसमे से कुछ घटक या टास्क सभी प्रोजेक्ट उपस्थित होते है । जबकि कुछ कार्य किसी विशेष प्रकार के प्रोजेक्ट में उपस्थित होते है । अर्थात् बड़े प्रोजेक्ट में सामान्यतया सभी घटको की आवश्यकता होती है । जबकि छोटे प्रोजेक्ट में केवल घटको को एक सबसेट की आवश्यकता होती है। जबकि टास्क का फ्लो सामान्यतः समान होते है ।  पहले डवलपर sdlc in hindi मे वॉटर फॉल एप्रोच का प्रयोग करते थे जिससे एक स्टेज में एक कार्य के पूरा हो जाने के बाद अगली स्टेज शुरू की जाती थी । परन्तु आजकल सिस्टम डवलपर जब भी आवश्यकता हो तो किसी भी स्टेज में आगे या पीछे जा सकते है । इसमे प्रोजेक्ट एक टीम के द्वारा डवलप किया

MIS technology (in hindi) । प्रबंधन सूचना प्रणाली ( MIS) । mis meaning in hindi

 आज हम mis in hindi   के अन्दर mis technology के बारे मे जानेगे और उसमें कार्य के बारे मे जानेगे mis क्या है ? तो चलिए शुरु करते हैं- what is the full form of mis :-   Management information system (प्रबंधन सूचना प्रणाली ( MIS) ) MIS technology (MIS in hindi) (mis meaning in hindi) :- एम.आई.एस. तीन शब्दों का एक समूह है । प्रबंधन , सूचना और सिस्टम ( प्रणाली ) इन तीनों शब्दों के अर्थ अलग - अलग हैं । प्रबंधन:- एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उपयोग संगठन के संचालन में होता है । संगठन संचालन के लिये - योजना बनाना , संगठन करना , संगठन के संचालन के लिये निर्देशन एवं समन्वय करना तथा अंत में सभी गतिविधियों को नियंत्रित करना है । सूचना:- से तात्पर्य डेटा का संग्रहण एवं उसका प्रोसेसिंग करना , विश्लेषण करना तथा निर्णय करने के उद्देश्य से उसका निष्कर्ष निकालना । अंतिम शब्द प्रणाली या सिस्टम है जिसका आशय ऐसे तत्वों का समूह जिन्हें एक लक्ष्य के लिये संयोजित किया जा सकता है ।  इस प्रकार प्रबंधन सूचना प्रणाली ( M.I.S. ) व्यवसाय के प्रबंधन के लिये डेटा के नियोजन , संग्रहण , भंडारण का निश्चित उद्देश्य क

ms access क्या है : what is ms access in hindi

 आज हम   Access का परिचय करेगे  ms access kya hai (what is ms access in hindi)   और उसमें कार्य के बारे मे जानेगे क्या होता है ? Ms Access hindi  में  तो चलिए शुरु करते हैं- Access का परिचय (  introduction of ms access in hindi):- डेटाबेस बनाना (Create database):- जब हम MS Access hindi  को लोड करते हैं तब स्क्रीन पर Microsoft Access का डायलॉग बॉक्स दिखाई देता है । यदि आप कोई नया डेटाबेस बनाना चाहते हैं तो इसके लिए निम्न स्टेप लेते हैं  1. Blank Access Database विकल्प पर क्लिक करें ।  2. माउस द्वारा OK बटन पर क्लिक करने पर New Database का डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देता है। 3. Save in के आगेवाले बॉक्स में उस ड्राइव और फोल्डर को चुनें , जिसमें नया डेटाबेस रखना चाहते हैं ।  4. File name विकल्प पर डेटाबेस को Save करने के लिए एक फाइल का नाम टाइप करें ।  5. Create पर click करने पर नया डेटाबेस बनकर स्क्रीन पर दिखाई देता है।  Table बनाना ( ms access hindi me table is use banate hai):- यदि आप डेटा स्टोर करने के लिए नई Table बनाना चाहते हैं तो इसके लिए  1. Data Windows की स्क्रीन पर क्ल

advanced excel worksheet

microsoft office excel  में आज हम   MS excel  के Advanced Handling in Excel Worksheet और उसमें कार्य के बारे मे जानेगे क्या होता है ? Excel वर्कशीट में एडवांस हैंडलिंग  और उसमें कार्य हिन्दी में  तो चलिए शुरु करते हैं- Creating a Workbook (Workbook Create करना):- microsoft office excel में नई workbook create करने के लिए Templates का प्रयोग करते हैं । Template एक रेडीमेड workbook होती है , जो प्रयोग के लिए सदैव काम में लाई जाती है । इसके लिए  1. File मेन्यू पर क्लिक करें ।  2. New विकल्प पर क्लिक करने पर New का डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देता है । 3. एक blank worksheet तैयार करने के लिए माउस द्वारा General टैब पर क्लिक करें ।  4. Work book आइकन पर डबल क्लिक करें या OK बटन पर क्लिक करें । इस तरह चुने गए template से वर्कबुक create हो जाती है , जिसमें हम एक जैसे कार्यों के लिए कई वर्कशीट रख सकते हैं । save this workbook as an excel template (Workbook को Template की तरह Save करना):- microsoft office excel में अपनी वर्कबुक को यदि Template की तरह save करना चाहते हैं तो Save As t

Popular posts from this blog

कंप्यूटर की पीढियां । generation of computer in hindi language

generation of computer in hindi  :- generation of computer in hindi language ( कम्प्युटर की पीढियाँ):- कम्प्यूटर तकनीकी विकास के द्वारा जो कम्प्यूटर के कार्यशैली तथा क्षमताओं में विकास हुआ इसके फलस्वरूप कम्प्यूटर विभिन्न पीढीयों तथा विभिन्न प्रकार की कम्प्यूटर की क्षमताओं के निर्माण का आविष्कार हुआ । कार्य क्षमता के इस विकास को सन् 1964 में कम्प्यूटर जनरेशन (computer generation) कहा जाने लगा । इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर के विकास को सन् 1946 से अब तक पाँच पीढ़ियों में वर्गीकृत किया जा सकता है । प्रत्येक नई पीढ़ी की शुरुआत कम्प्यूटर में प्रयुक्त नये प्रोसेसर , परिपथ और अन्य पुर्षों के आधार पर निर्धारित की जा सकती है । ● First Generation of computer in hindi  (कम्प्युटर की प्रथम पीढ़ी) : Vacuum Tubes ( वैक्यूम ट्यूब्स) ( 1946 - 1958 ):- प्रथम इलेक्ट्रॉनिक ' कम्प्यूटर 1946 में अस्तित्व में आया था तथा उसका नाम इलैक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इन्टीग्रेटर एन्ड कैलकुलेटर ( ENIAC ) था । इसका आविष्कार जे . पी . ईकर्ट ( J . P . Eckert ) तथा जे . डब्ल्यू . मोश्ले ( J . W .

पर्सनल कंप्यूटर | personal computer

पर्सनल कंप्यूटर क्या है? ( Personal Computer kya hai ?) :- personal computer definition :- ये Personal computer  क्या है शायद हम सभी लोगों यह  पता होगा क्यूंकि इसे हम अपने घरों में, offices में, दुकानों में देखते हैं  Personal computer (PC) किसी भी उपयोगकर्ता के उपयोग के लिए बनाये गए किसी भी छोटे और सस्ते कंप्यूटर का निर्माण किया गया । सभी कम्प्युटर Microprocessors के विकास पर आधारित हैं। Personal computer  का उदाहरण माइक्रो कंप्यूटर,  डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप कंप्यूटर, टैबलेट हैं। पर्सनल कंप्यूटर के प्रकार ( personal computer types ):- ● डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop) ● नोटबुक (Notebook) ● टेबलेट (tablet) ● स्मार्टफोन (Smartphone) कम्प्युटर का इतिहास ( personal computer history) :- कम्प्यूटर के विकास   (personal computer evolution)  के आरम्भ में जो भी कम्प्यूटर विकसित किया जाता था , उसकी अपनी एक अलग ही संरचना होती थी । तथा अपना एक अलग ही नाम होता था । जैसे - UNIVAC , ENIAC , MARK - 1 आदि । सन् 1970 में जब INTEL CORP ने दुनिया का पहला माइक्रोप्रोसेसर (

कम्प्युटर कीबोर्ड क्या है और कीबोर्ड के प्रकार

कम्प्युटर कीबोर्ड क्या है ( keyboard in hindi ) की - बोर्ड लगभग टाइपराइटर के सामान ही होता है , फर्क सिर्फ इतना है कि टाइपराइटर में लगे बटनों की अपेक्षा की - बोर्ड के बटन आसानी से दबते हैं जिससे लम्बे समय तक कार्य करने में सुविधा रहती है । की - बोर्ड के बटनों में एक खास बात यह भी होती है कि किसी बटन को कुछ देर तक दबाए रखा जाये तो  वह स्वयं को repeats होता है ।  की - बोर्ड एक केबल के द्वारा कम्प्यूटर से जुड़ा होता है जिसका एक सिरा की - बोर्ड तथा दूसरा सिरा CPU के पीछे लगे एक सॉकेट में लगाया जाता है । टाइपराइटर की तुलना में की - बोर्ड में कई अधिक Keys होती हैं , जिनसे अनेक प्रकार के काम किये जाते है। की -  बोर्ड के सबसे ऊपर right side ओर तीन रोशनी देने वाली light लगी होती हैं । ये Caps Lock , Num Lock तथा Scroll Lock key की स्थिति दर्शाते रहते हैं । की - बोर्ड ( कुंजीपटल ) user के निर्देशों / आदेशों अथवा डाटा / सूचना को कम्प्यूटर में input कराने का महत्वपूर्ण माध्यम है तथा सर्वाधिक प्रचलित है इसके द्वारा सूचना / डाटा सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट को भेजा जाता है । Caps Lock / Num