सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

अगस्त, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Featured Post

Kernel Approach

process management in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  process management in hindi  के बारे में बताएगें तो चलिए शुरु करते हैं-  process management in hindi:- Process Management Operating System Programs का एक Collection है , जिसमें System Resources , जिसके अन्तर्गत processor , memory इनपुट / आउटपुट डिवाइसेस तथा File System हैं , जिनको वह manage करता है । ये सभी System Resources valuable होते हैं , जिन्हें ऑपरेटिंग सिस्टम एक - दूसरे से co - operative ढंग से कार्य करने में सहायता करता है । ऑपरेटिंग सिस्टम प्रत्येक resource की status की जानकारी रखता है और certain policy  के आधार पर different processes के लिए resource को allocate है और निर्णय भी लेता है कि कोई process कितनी देर तक resource का उपयोग करेगा और अन्त यह allocated किये गए resource को delallocate भी करता है ।  ऑपरेटिंग सिस्टम द्वारा physical processors ( CUPs ) का management अर्थात्  process or tasks के लिए processor को allocate भी करना ही प्रोसेसर मैनेजमेंट कहा जाता है । ऑपरेटिंग सिस्टम की functioning को समझने के लिए process को समझना आवश्यक

memory management in os in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  memory management in os in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  memory management in os in hindi:- memory management  किसी भी Operating System का आधार होती है । मैमोरी अपने पास एक Array byte और अपना एक Address रखता है । इन से जो भी Instruction मिलते हैं ।  memory  इन सभी process को इधर से उधर लाने जाने का काम करता है और इसमें सबसे पहले कोई भी Instruction मैमोरी में से आता है फिर उस पर action किया जाता है और इसका result वह मैमोरी में डाल दिया जाता है । मैमोरी में बहुत सारे कार्य एक साथ होते हैं- जैसे indexing paging इत्यादि यह हम कैसे भुला सकते हैं कि जो मैमोरी है वह एक address देता है जिससे हम उस पर काम किया जा सके । 1. Address binding जो सामान्य रूप से कोई भी program डिस्क पर Binary Executable File में होता है । जो हमेशा डिस्क में रहता है । कोई भी program पहले मैमोरी में लाया जाता है जो कि Binary में होता है । उस Process को action में रखा जाता है फिर उस पर implementation किया जाता है और यह Memory Management पर निर

physical address and logical address in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  physical address and logical address in hindi  के बारे में बताएगें तो चलिए शुरु करते हैं-  physical address and logical address in hindi:- physical address and logical address  कोई भी address CPU द्वारा बनाया जाता है उसे लॉजिकल एड्रेस (logical address) कहते हैं और जो address memory में दिखता है उसे हम फिजिकल मैमोरी एड्रैस कहते हैं ) जिसमें Compile time और Load time address binding है कुछ converted करता है जब logical और physical address समान होते हैं अर्थात् एक जैसे होते हैं लेकिन action time address binding scheme में कुछ change आता है और जब logical और physical में अंतर होता है । इसलिये हम logic address को वर्चुअल एड्रैस ( Virtual Address ) भी कहते है और इसी का प्रयोग करते हैं । logical या virtual address हम कह सकते हैं और सारे logical address जो कि एक प्रोग्राम के द्वारा बनाये जाते हैं उन्हें लॉजिकल एड्रैस स्पेस ( Logical Address Space ) कहते हैं । इसके साथ ही जो physical address इन logical address के साथ होते हैं उन्हें हम फिजिकल एड्रैस स्पेस (

Semaphore in hindi - सेमाफोर क्या है

आज हम  computer course in hindi  मे हम  Semaphore in hindi (सेमाफोर क्या है)  के बारे में बताएगें तो चलिए शुरु करते हैं-  Semaphore in hindi (सेमाफोर क्या है):- Semaphore  1965 में , Dijksta से concurrent processes को मैनेज करने के लिये एक बहुत ही नयी तकनीक का use किया जाता है । इसमें interacting process की गति को synchronized करने के लिए एक Simple variable की value का use किया गया है और semaphore एक साधारण Integer variable है , जो नॉननिगेटिव वेल्यू को लेता है और जिस पर wait और Signal दो ऑपरेशन किये जाते हैं । active process के critical region की entry का control wait operation द्वारा किया जाता है और critical region से बाहर निकलने का सिंग्नल एवं सिंग्नल ऑपरेशन द्वारा दिया जाता है । इस semaphore का use कर इन ऑपरेशन्स की definition होती है । wait ( s ) :                    if s > 0 then                    set s to s - 1                   else                  block the calling process ( ie . wait on s )                  endif  signal ( s ): if any processes are waiting on s          

jvm (java virtual machine) in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  jvm (java virtual machine) in hindi   के बारे में यहाँ बताएगें तो चलिए शुरु करते हैं- jvm (java virtual machine) in hindi:- jvm (java virtual machine) , Java एक ऑब्जेक्ट - ओरियेन्टेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसका निर्माण 1995 ई . में Sun Microsystem द्वारा विकसित की गई । जावा वर्चुअल मशीन ( Java Virtual Machine ) एक Class loader , एक Class - Verifier और एक Java Interpreter का बना होता है जो Architecture - Neutral Byte Codes को execute करता है । ये Architecture - Neutral Byte Codes और Java कम्पाइलर Java प्रोग्राम के प्रत्येक क्लास के लिए produce किए जाते हैं । यह Java के प्रत्येक ऑब्जेक्ट class कन्सट्रक्ट द्वारा Specified किए जाते हैं , कोई भी जावा- प्रोग्राम एक या एक से अधिक क्लास का बना होता है । यह Java कम्पाइलर द्वारा produce किया गया Bytecode , Class फाइल में स्टोर होता है और Loader , class फाइलों को Java API से Java Interpreter द्वारा execute करने के लिए लोड करता है और जब कोई क्लास लोड हो जाता है तो Class Verifier यह जांच करता है कि क्लास फ

interprocess communication in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम   Interprocess communication in hindi  के बारे में बताएगें तो चलिए शुरु करते हैं- Interprocess communication in hindi:- Interprocess Communication यह modern operating system एक process से दूसरी को communications करने के लिये कई features भी available करवाते हैं । जिससे communications management की range एक event के simple signals से लेकर एक queue system में से massages के गुजरने तक होती है । यहाँ पर इसके इस part में हम इन्हीं techniques का analysis करते है ।  1. Signals और share की गई फाइल मतलब पाइप और message passing 2. share की गई मेमोरी और डायनेमिक डाटा एक्सचेंज ( DDE )  3. Object linking और embedding ( OLE ) इस तरह की communication system का सबसे सरल रूप एक process से दूसरी का signal है और जो उस event की पूरा को point करता है , जिस पर दूसरी process इंतजार कर रही है । इसे synchronization  भी जाना जाता है और Synchronizing Processes के objective के लिए semaphore भी internal processes के मध्य communication system का एक Channel है । unix systems म

method for handling deadlock in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम   method for handling deadlock in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- method for handling deadlock in hindi:- deadlock  को बचाने या हटाने के लिये हमें protocol  का प्रयोग करना पड़ सकता है और जब हम यह fixed कर लें कि सिस्टम को deadlock की state में नहीं जायेगा । हम सिस्टम को deadlock की state में पहचान करने एवं recover करने के लिए जाने दे सकते है । हम सारी परेशनियों को एक साथ हटा सकते हैं , और सिस्टम में फिर दुबारा से deadlock मौजूद नहीं होगा । यह solution कई ऑपरेटिंग सिस्टम एवं UNIX के द्वारा use में लिया जाता है , यह fix करने के लिये कि deadlock कभी नहीं होगा , सिस्टम को या तो  deadlock  बचाव scheme का use करना पड़ेगा या फिर deadlock को हटाने की scheme का use करना पड़ेगा । एक methods का set है जो यह fix करता है कि स्थिति में से एक को sald नहीं किया जा सकता । यह method को रोकते हैं Constraining के द्वारा resource की जरूरत पड़ती है । दूसरी तरफ , deadlock को हटाने की जरूरत पड़ती है ऑपरेटिंग सिस्टम की advanced addition

deadlock in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम   deadlock in hindi - डेडलॉक क्या है  के बारे में जानकारी देगे तो चलिए शुरु करते हैं- deadlock in hindi (डेडलॉक क्या है):- system model:- deadlock  इस multiprogramming के क्षेत्र में , कई प्रोसेस में आपस में competition होती है कुछ resource लेकिन  कुछ resource के लिये जो limited होते हैं और एक प्रोसेस को resource की आवश्यकता होती है , अगर resource जरूरत पड़ने के समय available नहीं होते , तो प्रोसेस को एक wait state में enter करना पड़ता है । इसमें waiting process कभी भी दुबारा state को बदलती नहीं है क्योंकि जो भी resource उनको चाहिये होते हैं वो किसी और वेटिंग प्रोसेस के पास होते हैं । इस अवस्था को हेडलॉक ( DEADLOCK ) कहते हैं ।  एक सिस्टम में कुछ ही गिने चुने resource होते हैं , जो कि competition करते हुये कई प्रोसेस में share दिये जाते हैं । resource को कई टाइप मे share दिया जाता है, मैमोरी स्पेस , C.P.U. cycle और IVO डिवाइस जैसे प्रिंटर और टेप ड्राईव resource type के उदाहरण है । operation of process resource :- ( i ) Request : -  अगर Request को

thread in os in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  thread in os in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- thread in os in hindi:- इस कंट्रोल के flow को थ्रेड (thread) कहा जाता है और हम जानते हैं कि प्रोग्राम , instructions का एक set है । ये instruction single program के कई भागों का निर्माण करते हैं और प्रोग्राम के प्रत्येक Independent भाग को प्रोग्राम का  थ्रेड (thread)  कहा जाता है ।  Types of  thread in hindi ( थ्रेड) :- ( 1 ) single thread (सिंगल थ्रेड)  ( 2 ) multi thread (मल्टि थ्रेड)  जिस प्रोसेस में कंट्रोल का केवल एक flow होता है हम उसे single thread ( लाइट वेट प्रोसेस ) कहते है ।  जिस प्रोसेस में कंट्रोल के कई flow होते हैं , उसे multi thread ( हेवी वेट प्रोसेस ) कहते है ।  एक  thread  , CPU उपयोग की मूलभूत इकाई है और इसमें एक  thread  ID , एक program counter , एक register set तथा एक steak होता हैं । दूसरे  thread  के साथ यह कोड सेक्शन एवं डाटा सेक्शन और दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम resource , जैसे ओपन फाइल और signal को share करता है । इसमें एक traditional single

parallel processing in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  parallel processing in hindi  के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  parallel processing in hindi:- parallel processing  अब जैसे - जैसे कम्प्यूटर हार्डवेयर का आकार और कीमत कम होती जाती है । वैसे - वैसे Multi Processing, Distributed Processing और Massive Parallelism के per different trends सामने आते हैं और यदि कुछ Fixed Operations Parallelize में perform logically किये जाते हैं , तब Parallelism का स्तर हजारों और लाखों concurrent process में होने पर भी और कम्प्यूटर्स द्वारा उनहें parallel form में perform किया जाता है । इससे sequential computers की तुलना में कार्यक्षमता को अत्यधिक बढ़ाया जाता है । यह determined करना बहुत कठिन और लम्बी process है इसमें कि parallel processing में कौन - कौन से कार्य किये जा सकते हैं और कौन - से नहीं । एक bug के determined होने के बाद , parallel programs को debug करना symbolic programs की तुलना में अधिक कठिन है और जिस events में bug पहले स्थान पर display होता है , उस घटनाक्रम को पुनः निर्मित कर

semaphore in os in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  semaphore in os in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  semaphore in os in hindi:- semaphore in os  यहाँ अभी - अभी हमने  पहले वाले artical में mutual exclusion के प्रोब्लम के लिए जिस algorithm मतलब solution की बात कि वह mutual exclusion के सभी problems को solve नहीं कर पाता है यह एक Dutch Mathematician , जिनका नाम Dekker था , ने सबसे पहले mutual exclusion प्रोब्लम को हल किया। लेकिन algorithm केवल दो ही प्रोसेसेस पर कार्य करता है तथा इसे दो से अधिक प्रोसेस पर लागू नहीं किया जा सकता है । Semaphore जो एक cynchronization tool है , जिसे Dijkstra नाम के वैज्ञानिक के द्वारा develope किया गया है और mutual exclusion प्रोबलम को solve करने के लिए कई ऑपरेटिंग सिस्टम में  system call या built - in functions के रूप में implement किया गया है । यह सेमोफोर ( Semaphore ) एक integer वैरिएबल है जिसे S से सूचित किया जाता है । अत : S केवल non - negative intejer value को accept करता है तथा इसे दो primitive operations - wait और sign

message passing system in os in hindi / Critical Section in Hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  message passing system in os in hindi / Critical Section in Hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  message passing system in os in hindi:- message passing system का प्रमुख कार्य एक प्रोसेस से दूसरे प्रोसेस को Communicate करने की permission provide करना है । Interprocess communication कम से कम send ( message ) और receive ( message ) नामक दो operations की सुविधा provide करता है । किसी भी प्रोसेस द्वारा भेजा जाने वाला मेसेज , fixed or variable size का हो सकता है ।  fixed - size के मैसेज को भेजने के लिए ,  message passing system  को डिजाइन तथा implement करना आसान होता है । जबकि variable - size के मैसेज को भेजने के लिए  message passing system  को डिजाइन तथा implement करना complex होता है । Types of message passing system in os in hindi:- 1. Interprocess Communication in hindi and Synchronization :- Interprocess Communication in hindi:- Interprocess communication  ( more info. click her) में प्रोसेसेस को हमेशा एक - दूसर

multithreading models in hindi

आज हम  computer course in hindi  मे हम  multithreading models in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  multithreading models in hindi:- multithreading models  बड़ी संख्या में system , user और colonel दोनों thread को Support करते हैं , जिसके विभिन्न  multithreading models  आते हैं । types of  multithreading models in hindi:- 1. Many-to-one model :- Many-to-one model में एक kernel thread से कई user लेवल thread रहते हैं और ये thread manage user space में किया जाता है । इसलिये यह adequate working capacity वाला होता है , लेकिन यदि एक भी thread blocking system करता है , क्योंकि केवल एक thread को एक समय में kernel को access कर सकता है , इसलिये भी multiple threads multiprocessor पर parallel run नहीं हो सकते हैं । green threads के लिये उपलब्ध एक thread library में इस मॉडल का उपयोग होता है और ऑपरेटिंग सिस्टम पर execute होने वाली user - level , thread system पर execute होने वाली user - level , threads libraries और वे जो kernel thread को Support नहीं करती है , Many-t

unix commands in hindi

आज हम  unix operating system in hindi   मे हम  unix commands in hindi  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- unix commands in hindi:- UNIX के  commands  को prompt पर टाइप कर ENTER ' की ' को दबाकर execute किया जाता है । इससे पहले कि आप UNIX के कमाण्डों को execute कर , UNIX में कार्य करना start करें ,कुछ बातों का ध्यान रखें:- 1 . UNIX के सभी कमाण्डों को lower case में टाइप करें और प्रत्येक कमाण्ड को टाइप करने के पश्चात् ENTER ' की दबाएँ ।  2. कमाण्ड और उसके option के बीच एक space या एक TAB अवश्य दें ।  3 . कमाण्ड के option को subtraction के चिन्ह ( - ) से जरूर  prefix करें ।  4. कमाण्ड के दो या दो से अधिक options को एक साथ subtraction के चिन्ह ( - ) से भी prifix किया जा सकता है ।   5. यदि किसी कमाण्ड के execution के कारण सिस्टम एक indefinite period के लिए loop में फंस जाए तो आप Del ' key ' को दबाएँ । यदि इस पर भी prompt नहीं show हो तो आप CTRL + D ' key ' को दबाएँ । CTRL + D key को एक साथ दबाने पर login का prompt show होगा। unix command

unix operating system in hindi - यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है

आज हम  computer course in hindi  मे हम  unix operating system in hindi (यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है)  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  unix operating system in hindi (यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है):- unix kya hai (Working in unix in hindi):- unix operating system  में काम करने से पहले हमें UNIX सिस्टम में login करना पड़ता है और  unix operating system  में login करने के लिए प्रत्येक user का एक account और password होता है और प्रत्येक user का system administrator द्वारा create किया जाता है एवं साथ ही एक password भी assign किया जाता है । इससे पहले कि हम UNIX में login करना सीखें आइए , UNIX को install करने के लिए हार्डवेयर आवश्यक हैं । Hardware of Unix in hindi :- unix operating system  को install करने के लिए हार्डवेयर की आवश्यकता होती है  1. हार्ड डिस्क में 80MB का Space ।  2 . कम से कम 4 MB की RAM |  3 . PC / AT या इससे advanced structure का कम्प्यूटर ।  4. Host machine पर 4/8/6 Port Controller Card ।  5. प्रत्येक terminal के लिए host machine में 1 MB का

virtual machine kya hai

आज हम  computer course in hindi  मे हम  virtual machine kya hai (वर्चुअल मशीन क्या है)  के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- virtual machine kya hai (वर्चुअल मशीन क्या है) :- यह वर्चुअल मशीन ( Virtual Machine ) एक concept है जिससे वर्चुअल मशीन ऑपरेटिंग सिस्टम  के द्वारा create किया जाता है और जिसमें एक ही machine अनेक machine जैसे कार्य करती हुई होती हैं । वर्चुअल मशीन ( Virtual Machine ) एक concept है जो एक real machine की जगह अनेकों real machines के होने का delusional करती है । इस प्रकार के delusional की स्थिति की तुलना आप टेलीफोन लाइन से कर सकते हैं जिससे एक ही तार पर एक साथ अलग - अलग conversations होती है । इस वर्चुअल मशीन में टेकनीक का सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है कि प्रत्येक यूजर अपनी इच्छा के अनुसार ऑपरेटिंग सिस्टम को रन कर सकता है । इसी fact को OS1 , OS2 तथा OS3 के माध्यम से दिखाया गया है । वर्चुअल मशीन ( Virtual Machine ) के concept को समझने के लिए Conventional Multiprogramming System  तथा Virtual Machine Multiprogramming की जरूरत होती हैं । कनवेन्शनल मल्

wireless communication in hindi

 wireless communication in hindi:- wireless communication  वर्तमान तकनीक की appreciate करने और future में इसके विकास को बढ़ाने के लिए खुद को तैयार करने के लिए,  wireless communication  जैसी तकनीक पर एक glance रखना होता है। नई तकनीक के विकास की ओर forward होने के लिए हमेशा कई छोटे कदम होते हैं। इन पहले की खोजों के विकास का पता लगाने से हमें यह समझने में मदद मिल सकती है कि यह तकनीक में कैसे कार्य करती है। radio, television, radar, satellite, wireless और mobile, cellular और अन्य wireless network को कवर करने वाले है। '  wireless  ' शब्द का प्रयोग सभी प्रकार के devices और technologies को describe करने के लिए किया जाता है जो अंतरिक्ष को signal propagation के रूप में उपयोग करते हैं, और तार या केबल से जुड़े नहीं होते हैं।  wireless communication  को तारों के उपयोग के बिना यूजर्स की जानकारी के broadcast के रूप में defined किया जा सकता है। यूजर्स की जानकारी मानव आवाज, डिजिटल डेटा, ई-मेल संदेश, वीडियो और अन्य सेवाओं के रूप में हो सकती है।  wireless communication  हमारे दैनिक जीवन के लग

Turing Machine in Hindi (ट्यूरिंग मशीन)

 Turing Machine in Hindi (ट्यूरिंग मशीन) :- हमने देखा है कि FAs, REs, PDA और CFGs सभी भाषाओं या सभी situation को संभालने के लिए पर्याप्त शक्तिशाली नहीं हैं।  कंप्यूटर का सबसे शक्तिशाली मॉडल Turing Machine ( ट्यूरिंग मशीन)  है।  computers के आविष्कार से पहले इस मॉडल की जांच ट्यूरिंग और पोस्ट और अन्य लोगों ने 60 साल से भी पहले की थी।  उनके theoretical results ने डिजिटल कंप्यूटर के डिजाइन को बहुत प्रभावित किया। पहली बार में, एक ट्यूरिंग मशीन appears primitive होती है: एक tape के साथ बस एक limited automa tones। लेकिन tape पर arbitrarily से लिखने और उस तक पहुंचने की क्षमता काफी लाभ प्रदान करती है। वास्तव में, हम देखेंगे कि ट्यूरिंग एक वास्तविक दुनिया के कंप्यूटर का एक मॉडल है; यह एक "प्रभावी कंप्यूटर" की perception को लेता है। Albert Hubbard (एल्बर्ट हबर्ड) :- एक मशीन पचास आम आदमी का काम कर सकती है। कोई भी मशीन एक असाधारण आदमी का काम नहीं कर सकती। Bertrand Russell (बर्ट्रेंड रसेल) :-  मशीनों की Worship की जाती है क्योंकि वे सुंदर हैं, और मूल्यवान हैं क्योंकि वे शक्ति प्रदान

pushdown automata in hindi

Pushdown automata in hindi:- pushdown automata अब हम एक ऐसे कंप्यूटर के मॉडल हैं जो एक finite automaton से अधिक शक्तिशाली है।  इस मॉडल में, हम FA को कुछ मेमोरी देते हैं;  विशेष रूप से, हम इसे एक स्टैक देते हैं। स्टैक last-in, first-out principle पर जानकारी store करने का एक तरीका है। स्टैक में जो कुछ भी जोड़ा जाता है वह top में जोड़ा जाता है, और स्टैक से जो कुछ भी हटाया जाता है वह ऊपर से हटा दिया जाता है। किसी आइटम को स्टैक में जोड़ने की प्रक्रिया को पुशिंग (pushing) कहा जाता है; आइटम top पर चला जाता है। स्टैक से किसी आइटम को हटाने की प्रक्रिया को पॉपिंग (popping) कहा जाता है; हटाया गया आइटम top आइटम था। एक Pushdown Automaton (PDA) एक FA की तरह है जिसमें states की एक fixed finite number हो सकती है। लेकिन इसमें store के लिए एक अनबाउंड स्टैक भी है। एक पीडीए इनपुट को पढ़कर काम करता है। जब एक symbol पढ़ा जाता है, तो  (A) मशीन की state,  (B) स्टैक के top पर symbol, और  (C) symbol पढ़ा जाता है 1. अपनी स्थिति को अपडेट करती है,  2. प्रतीक को पॉप या पुश करती है।   मशीन बिना इनपुट पढ़े प

context free grammar in hindi

 context free grammar in hindi :- एक कंप्यूटर भाषा के लिए grammar एक natural language के समान है: चीजों को एक साथ रखने के लिए नियमों का एक ग्रुप। प्रत्येक grammar एक language से मेंच खाता है।  हमारा ध्यान एक प्रकार के grammar पर है, जिसे context free grammar कहा जाता है। एक grammar में consists Variables का एक सेट होता है (जिसे नॉनटर्मिनल भी कहा जाता है)  टर्मिनलों का एक सेट (Alphabet से)  presentations की एक सूची (जिसे नियम भी कहा जाता है)   Example:- S एकमात्र variable है। टर्मिनल 0 और 1 हैं। दो प्रोडक्शंस हैं। variable के लिए अपर-केस अक्षरों का उपयोग करने की Practice है। Grammer कैसे काम करता है? एक products आपको एक variable स्ट्रिंग लेने और variable को product के दाईं ओर से बदलने की अनुमति देता है। कि a (finite) स्ट्रिंग w, टर्मिनलों से मिलकर, grammar द्वारा उत्पन्न होता है यदि, प्रारंभ चर S से शुरू करके, आप कर सकते हैं। प्रोडक्शंस लागू करें और उस स्ट्रिंग के साथ समाप्त करें। इस प्रकार प्राप्त स्ट्रिंग्स के sequence को w की etymology कहा जाता है। इस edition को context-free gra

Data mart and Meta data in hindi

 Data mart and Meta data in hindi:- डेटा वेयरहाउस एक रिलेशनल डेटाबेस है जिसे लेनदेन processing के बजाय क्वेरी और analysis के लिए डिज़ाइन किया गया है। डेटा वेयरहाउस में आमतौर पर historical data होता है जो लेनदेन डेटा से प्राप्त होता है। यह analysis कार्यभार को लेन-देन से अलग करता है और एक व्यवसाय को कई sources से डेटा को consolidate करने में सक्षम बनाता है। एक रिलेशनल डेटाबेस के अलावा, एक डेटा वेयरहाउस environment में अक्सर एक ETL solution, एक OLAP इंजन, client analysis tools और अन्य application होते हैं जो डेटा collection करने और इसे business users को delivere करने की process करते हैं। Types of data warehouse:- 1. Enterprise data warehouse :-  एक एंटरप्राइज डेटा वेयरहाउस पूरे एंटरप्राइज में decision support के लिए एक central डेटाबेस प्रदान करता है।  2. ODS (operational data store): -  इसका एक broad enterprise wide scope है, लेकिन वास्तविक एंटरप्राइज डेटा वेयरहाउस के विपरीत, डेटा को वास्तविक समय में किया जाता है और नियमित Business Activity के लिए उपयोग किया जाता है।   3. Data mart :-