सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

computer question in hindi

ms excel functions in hindi

 आज हम computer in hindi मे ms excel functions in hindi(एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है) - Ms-excel tutorial in hindi के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-

ms excel functions in hindi (एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है):-

वर्कशीट में लिखी हुई संख्याओं पर फॉर्मूलों की सहायता से विभिन्न प्रकार की गणनाएँ की जा सकती हैं , जैसे — जोड़ना , घटाना , गुणा करना , भाग देना आदि । Function Excel में पहले से तैयार ऐसे फॉर्मूले हैं जिनकी सहायता से हम जटिल व लम्बी गणनाएँ आसानी से कर सकते हैं । Cell Reference में हमने यह समझा था कि फॉर्मूलों में हम जिन cells को काम में लेना चाहते हैं उनमें लिखी वास्तविक संख्या की जगह सरलता के लिए हम उन सैलों के Address की रेन्ज का उपयोग करते हैं । अत : सैल एड्रेस की रेन्ज के बारे में भी जानकारी होना आवश्यक होता है । सैल एड्रेस से आशय सैल के एक समूह या श्रृंखला से है । यदि हम किसी गणना के लिए B1 से लेकर F1 सैल को काम में लेना चाहते हैं तो इसके लिए हम सैल B1 , C1 , D1 , E1 व FI को टाइप करें या इसे सैल Address की श्रेणी के रूप में B1:F1 टाइप करें । किसी सैल Address की Range को लिखने के लिए सबसे पहले उस सैल Address समूह का प्रथम सैल तथा अन्तिम सैल टाइप करना होता है ।
Example:-
सैल एड्रेस के रेन्ज के रूप में लिखना       सैल एड्रेस रेन्ज में शामिल सैल

BI : FI                  पहली लाइन में B1 से लेकर F1 तक के सैल
A1 : A20           A column में 1 से 20 तक की लाइनों के सैल
AI0 : D20            A से D कॉलम में 10 से 20 तक की पंक्तियों के सैल

एक्सल फंक्शनों का प्रयोग ( Use of Excel Functions in hindi) :-

श्रेणी                      कार्य 
Function            ब्याज , ह्रास , ऋण भुगतान , वर्तमान मूल्य ( PV ) आदि की गणना करने हेतु । 
Date and Time वर्ष , तारीख , दिन व समय की गणना करने हेतु ।
Math & Trig      गणितीय गणनाएँ , जैसे Logarithm , कोण व डिग्री की                                  गणना करने हेतु ।
Statistical          योग , औसत , मध्यका , बहुलक , सहसम्बन्ध व अन्य                                        उच्चस्तरीय गणनाओं हेतु ।  
Lookup & Reference  Range के मूल्यों की गणना व Hyperlink बनाने हेतु । 
Information      सैल में सूचना लेने हेतु । 
Logical               सैल एड्रेस रेन्ज में शामिल सैल किसी तर्क का मूल्यांकन करने हेतु जिसका उत्तर सही या गलत में आये । 
Database            Excel Database से मूल्यों की गणना करने हेतु । 
Text                    Text को जोड़ना या Upper Case व Lower Case को बदलने के लिए ।
ज्योंही selected cell में Type करते हैं या Formula Bar में = चिन्ह पर click करते हैं , वैसे ही नेम बॉक्स बदलकर Function Box का कार्य करने लगता है । Down Arrow पर click करके हाल ही में काम में लिए गए फंक्शनों की लिस्ट स्क्रीन पर देखी जा सकती है । किसी फंक्शन को select करने पर वह फंक्शन काम करने योग्य स्थिति में आ जाता है व cell की range व अन्य सभी वांछित जानकारी देने के बाद वह उस function का परिणाम cell में दे देता है । इसको खोलने का तरीका इस प्रकार है 
1 . Menu Bar में Insert Menu की लिस्ट में मौजूद function option को click करके ,
2 . Tool Bar में उपलब्ध " fx " की Icon को click करके । इस प्रक्रिया के द्वारा Paste function दिखाई देता है ।

Important function Ms excel in hindi:- 

1.Sum ( ):-

इसका उपयोग एक से अधिक संख्याओं को जोड़ने के लिए किया जाता है । 
Example:-
=sum ( 2,5,7 ) 14 
=sum ( B1 , B7 ) B1 व B7 की संख्याओं का योग । 
=sum ( AL : A7 ) A1 से A7 तक की संख्याओं का योग । 

2. Average ( ):-

इसका उपयोग 1 से अधिक संख्याओं का औसत ज्ञात करने के लिए किया जाता है।
=Average ( 8,9,4 )     7 
=Average ( A2 : A8 ) A2 से A8 तक की संख्याओं का औसत ।

 3.STDEV():-

 इस Function का उपयोग संख्याओं का मानक विचलन निकालने के लिए किया जाता है । 
Example:- 
=STDEV ( 22,30 , 14 ) 14.05 
=STDEV ( AI : A5 ) AI से A5 तक की संख्याओं का मानक विचलन । 

4. MAX ():- 

इसका उपयोग दी गई संख्याओं की सूची में से सबसे बड़ी संख्या को प्राप्त करने के लिए किया जाता है ।
Example:- 
= MAX ( 10,15,14 ) 15 
= MAX ( AL : A7 ) AI से A7 में सबसे बड़ी संख्या । 

5. MIN ( ):-

इसका उपयोग दी गई संख्याओं में से सबसे छोटी संख्याओं को देखने के लिए किया जाता है । 
Example:- 
= MIN ( 10,5,15 ) 5 
= MIN ( B1 : B8 ) BI से B8 में सबसे छोटी संख्या । 

6.Count ( ):-

 इसका उपयोग किसी सूची में से संख्यात्मक संख्याओं की मात्रा को बताने के लिए किया जाता है । 
Example:-
= Count ( 5 , " A " , 5,3 ) 3 
= Count ( B1 : B8 ) B1 से 88 तक संख्यात्मक Cell की मात्रा । 

7.SQRT ( ):-

इस Function के द्वारा किसी भी धनात्मक संख्या का वर्गमूल निकाला जा सकता है । ऋणात्मक संख्या होने पर #NUM ! Error आती है ।
Example:-
= SQRT ( 9 ) 3 
= SQRT ( A3 ) A3 में उपस्थित संख्या का वर्गमूल 
= SQRT ( -5 ) #NUM !

 8. Power ( ) :-

इसके द्वारा किसी भी संख्या का वर्ग ज्ञात किया जा सकता है । इसको Power ( x , y ) लिखा जाता है । यहाँ पर x संख्या का वर्ग y है । 
Example:-
= POWER ( 5,2 ) 25 
= POWER ( 9,4 ) 6561 

9. INT ( ) :-

इसका उपयोग किसी संख्या में से Integer भाग को दर्शाने के लिए किया जाता है । 
Examples:-
= INT ( 12,25 ) 12 
= INT ( 115,99 ) 115

If Function in hindi:-

 यह function एक तार्किक function है , जिसके द्वारा किसी cell में लिखी गई संख्या की किसी अन्य संख्या या Label से तुलना की जाती है । यदि तुलना का परिणाम हाँ में है तो बताई गई एक क्रिया की जाती है । यदि तुलना का परिणाम ना में है तो बताई गई दूसरी क्रिया की जाती है । इस क्रिया के अन्तर्गत कोई भी संख्या या लेबल लिखा जा सकता है अथवा किसी भी प्रकार की गणना को भी पूरा किया जा सकता है ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

report in ms access in hindi - रिपोर्ट क्या है

  आज हम  computers in hindi  मे  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है)  - ms access in hindi  के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है):- Create Reportin MS - Access - MS - Access database Table के आँकड़ों को प्रिन्ट कराने के लिए उत्तम तरीका होता है , जिसे Report कहते हैं । प्रिन्ट निकालने से पहले हम उसका प्रिव्यू भी देख सकते हैं ।  MS - Access में बनने वाली रिपोर्ट की मुख्य विशेषताएँ :- 1. रिपोर्ट के लिए कई प्रकार के डिजाइन प्रयुक्त किए जाते हैं ।  2. हैडर - फुटर प्रत्येक Page के लिए बनते हैं ।  3. User स्वयं रिपोर्ट को Design करना चाहे तो डिजाइन रिपोर्ट नामक विकल्प है ।  4. पेपर साइज और Page Setting की अच्छी सुविधा मिलती है ।  5. रिपोर्ट को प्रिन्ट करने से पहले उसका प्रिन्ट प्रिव्यू देख सकते हैं ।  6. रिपोर्ट को तैयार करने में एक से अधिक टेबलों का प्रयोग किया जा सकता है ।  7. रिपोर्ट को सेव भी किया जा सकता है अत : बनाई गई रिपोर्ट को बाद में भी काम में ले सकते हैं ।  8. रिपोर्ट बन जाने के बाद उसका डिजाइन बदल

foxpro commands in hindi

आज हम computers in hindi मे  foxpro commands  क्या होता है उसके कार्य के बारे मे जानेगे?   foxpro all commands in hindi  में  तो चलिए शुरु करते हैं-   foxpro commands in hindi:-  (1) Clear command in foxpro in hindi:-  इस  command  का प्रयोग  foxpro  की main स्क्रीन ( जहां रिकॉर्ड्स / Output प्रदर्शित होते हैं ) को Clear करने के लिए किया जाता है ।  (2) Modify Structure in foxpro in hindi :-  इस  command  का प्रयोग वर्तमान प्रयुक्त  डेटाबेस  फाईल के स्ट्रक्चर में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए किया जाता है । इसके द्वारा नये फील्ड भी जोड़े जा सकते हैं तथा पुराने फील्ड्स को हटाया व उनके साईज़ में भी परिवर्तन किया जा सकता है ।  (3) Rename in foxpro in hindi :-  इस  command  के द्वारा किसी  database  file का नाम बदला जा सकता है जिस फाईल को Rename करना हो वह मैमोरी में खुली नहीं होनी चाहिए ।   Syntax : Rename < Old filename > to < New filename >  Foxpro example: -  Rename Student.dbf to St.dbf (4) Copy file in foxpro in hindi :- इस command के द्वारा किसी एक डेटाबेस फाईल के रिकॉ