सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

Depth Buffer Algorithm

computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली) "S"

आज हम computer in hindi मे हम computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-
Computer glossary "S"

Computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) "S" :-

• full form in SBC:-

 इसका पूरा नाम स्माल बिजनेस कम्प्यूटर है ।

• SCHEMA :-

यह भाषा , डेटा प्रोसेसिंग में प्रयोग की जाती है । 

• full form in  SCR :-

सिलिकॉन द्वारा Controlled rectifier । 

• SETL :-

एक हाई लेवल- प्रोग्रामिंग भाषा । 

• SIMSCRIPT :-

यह हाई - लेवल की प्रोग्रामिंग भाषा है ।

• full form in SLIP :-

सीरियल लाइन इंटरनेट प्रोटोकॉल का पूरा नाम । 

• SLT:-

 कम्प्यूटर सर्किट के निर्माण में इस तकनीक का प्रयोग किया जाता है । 

• full form in SMTP:-

 इसका पूरा नाम सिम्पल मेल ट्रांसफर प्रोटोकॉल है ।

• full form in SNOBAL :-

स्ट्रिंग ओरियेन्टिड प्रोग्रामिंग भाषा 

• full form in SO :-

इसका पूरा नाम Send Only है । इसका प्रयोग उस उपकरण के लिए करते हैं जो केवल डेटा भेजने का कार्य करता है । 

• full form in SOP :-

इस शब्द का पूरा रूप - स्टैण्डर्ड आपरेटिंग प्रोसीजर है ।

 • full form in SOS:-

 यह एक विशेष प्रकार का IC होता है । इसका पूरा नाम सिलिकान ऑन सेफायर है ।

• full form in STRUDL :-

यह एक स्ट्रक्चरल डिजाइन प्रोग्रामिंग भाषा है । इसका प्रयोग डिजाइन और एनालिलिस के लिए होता है । 

• full form in SYSGEN :-

इसका सम्पूर्ण नाम सिस्टम जेनरेशन है ।
-:Computer Glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• SYSOP:-

bulletin board service operated करने वाले व्यक्ति के लिए इस शब्द का प्रयोग करते हैं । 

• Sample Data :-

Sample Data को आधार मानकर प्रोग्राम के सही या गलत कार्य करने की जांच करते हैं । 

• Ssns Serif:-

 एक प्रकार का फोंट या टाइपफेस 

• Satellite:-

 मानव निर्मित उपग्रह जो पृथ्वी की कक्षा में पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता है । 

• Scalling :-

इमेज जो कम्प्यूटर में प्रयोग की जा रही है , उसका आकार परिवर्तित करना । 

• Saclable Font :-

एक ऐसा परिवर्तनशील फॉण्ट जिसका आकार बदला जा सकता है । 

• Scan Code :-

की - बोर्ड की कुंजी को दबाकर छोड़ने पर उत्पन्न हुई संख्यात्मक आकृति । 

• Scan :-

किसी इमेज को ठीक वैसा ही कम्प्यूटर में इनपुट करने में मदद करने वाला एक उपकरण । 

• Scan Area :-

इमेज का वह भाग जिसे कम्प्यूटर में इनपुट करना है । 

• Scan Line :-

मॉनीटर की CRT पर एक समानान्तर लाइन ।

• Scanner :-

इस उपकरण द्वारा इमेज को स्कैन करके कम्प्यूटर में इनपुट किया जाता है ।

• Scanner scatter Plot :-

एक प्रकार का ग्राफ जो दो डाटा के समूह के आपसी सम्बन्धों की व्याख्या करता है ।

• Scanning :-

स्कैन करने की क्रिया स्कैनिंग कहलाती है । 

• Scheduled Maintenance :-

एक नियमित अंतराल के पश्चात् कम्प्यूटर की जांच व मरम्मत

• Smart Terminal:-

 इस टर्मिनल द्वारा डेटा प्राप्त करने तथा उन्हें भेजने का कार्य एक साथ ही होता है । 

• Smash :-

स्टोरेज माध्यम के किसी भी भाग में एक प्रोग्राम या डेटा के ऊपर दूसरा प्रोग्राम या डेटा लिखकर पहले वाले को नष्ट करने की स्थिति । 

• Smooth Scrolling :-

मॉनीटर पर डेटा का बिना बाधा विरोध के ऊपर से नीचे जाना तथा नीचे से ऊपर जाना बिना किसी बाधा के 
-:Computer Glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Snow:-

मॉनीटर की स्क्रीन पर सफेद बिन्दु का झिलमिलाना

• Software Application:-

 किसी सॉफ्टवेयर अथवा कम्प्यूटर प्रोग्राम का मूल नाम

• Software Licence :-

किसी सॉफ्टवेयर को उपयोग करने से पूर्व उसके creator से प्राप्त की गई अनुमति 

• Software Life Cycle :-

किसी सॉफ्टवेयर को विकसित एवं उसमें revision process। 

• Soft Clip Area:-

डेटा को प्रस्तुत करने के प्लाटर द्वारा क्षेत्र की सीमा । 

• Soft Copy:-

 टेप या डेटा का डिस्क पर बैक अप लेना । 

• Soft Key :-

users द्वारा की बोर्ड की वह की जिनका निर्धारण सम्भव हो । 

• Software :-

सॉफ्टवेयर कम्प्यूटर को दिए जाने वाले निर्देशों के समूह हैं ।

• Software Base :-

यह सॉफ्टवेयर किसी विशेष कम्प्यूटर के लिए निर्मित किया जाता है । 

• Software Compatability:-

 एक सॉफ्टवेयर के दूसरे कम्प्यूटर पर प्रयोग होने की सम्भावना ।

• Software Development :-

सॉफ्टवेयर को निर्माण करने की विधि को Software Development कहते हैं । 

• Software Document :-

सॉफ्टवेयर को प्रयोग करने की विवरण पुस्तिका ।

• Software Engineering:-

सॉफ्टवेयर के विकास के विज्ञान को Software Engineering कहते हैं । 

• Software Maintenance:-

सॉफ्टवेयर की errors को समाप्त करने की विधि ।

• Software Monitor :-

सॉफ्टवेयर की कार्य क्षमता पर vision रखना । 

• Software Package:-

 एक - दूसरे से संबंधित सॉफ्टवेयरों के समूह को Software Package कहते हैं ।

• Software Piracy :-

सॉफ्टवेयरों की चोरी Software Piracy कहलाती है ।

• Software Partability :-

एक कम्प्यूटर से मिटाकर दूसरे कम्प्यूटर में सॉफ्टवेयरों को स्थापित करने की प्रक्रिया । 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ms excel functions in hindi

  आज हम  computer in hindi  मे ms excel functions in hindi(एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है)   -   Ms-excel tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- ms excel functions in hindi (एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है):- वर्कशीट में लिखी हुई संख्याओं पर फॉर्मूलों की सहायता से विभिन्न प्रकार की गणनाएँ की जा सकती हैं , जैसे — जोड़ना , घटाना , गुणा करना , भाग देना आदि । Function Excel में पहले से तैयार ऐसे फॉर्मूले हैं जिनकी सहायता से हम जटिल व लम्बी गणनाएँ आसानी से कर सकते हैं । Cell Reference में हमने यह समझा था कि फॉर्मूलों में हम जिन cells को काम में लेना चाहते हैं उनमें लिखी वास्तविक संख्या की जगह सरलता के लिए हम उन सैलों के Address की रेन्ज का उपयोग करते हैं । अत : सैल एड्रेस की रेन्ज के बारे में भी जानकारी होना आवश्यक होता है । सैल एड्रेस से आशय सैल के एक समूह या श्रृंखला से है । यदि हम किसी गणना के लिए B1 से लेकर  F1  सैल को काम में लेना चाहते हैं तो इसके लिए हम सैल B1 , C1 , D1 , E1 व FI को टाइप करें या इसे सैल Address की श्रेणी के रूप में B1:F1 टाइ

window accessories kya hai

  आज हम  computer in hindi  मे window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)   -   Ms-windows tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)  :- Microsoft Windows  कुछ विशेष कार्यों के लिए छोटे - छोटे प्रोग्राम प्रदान करता है इन्हें विण्डो एप्लेट्स ( Window Applets ) कहा जाता है । उनमें से कुछ प्रोग्राम उन ( Gadgets ) गेजेट्स की तरह के हो सकते हैं जिन्हें हम अपनी टेबल पर रखे हुए रहते हैं । कुछ प्रोग्राम पूर्ण अनुप्रयोग प्रोग्रामों का सीमित संस्करण होते हैं । Windows में ये प्रोग्राम Accessories Group में से प्राप्त किये जा सकते हैं । Accessories में उपलब्ध मुख्य प्रोग्रामों को काम में लेकर हम अत्यन्त महत्त्वपूर्ण कार्यों को सम्पन्न कर सकते हैं ।  structure of window accessories:- Start → Program Accessories पर click Types of accessories in hindi:- ( 1 ) Entertainment :-   Windows Accessories  के Entertainment Group Media Player , Sound Recorder , CD Player a Windows Media Player आदि प्रोग्राम्स उपलब्ध होते है

applet in java in hindi

  आज हम  computers  in hindi   मे   applet in java in hindi  (java programming in hindi)  -   Internet tools in hindi  के बारे में  जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  Applet in java in hindi:- applet in java  के वे छोटे प्रोग्राम होते हैं जो इन्टरनेट प्रोग्रामिंग में काम में लिए जाते हैं । यह  applet  एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर भेजे जा सकते हैं , तथा फिर इन्हें किसी भी वेब ब्राउज़र या एप्लेट व्यूअर द्वारा रन कराया जा सकता है ।  एक  applet  किसी एप्लीकेशन प्रोग्राम की तरह कई कार्य कर सकता है , जैसे गणितिय गणनाएं करना , ग्राफिक्स प्रदर्शित करना , साउंड का प्रयोग करना , यूजर से इनपुट लेना आदि । life cycle applet in hindi :- 1. Born Or Initialization State  2. Running State  3. Idle State 4. Dead Or Destroyed State 1. Born Or Initialization State :- एक  applet  बोर्न स्टेट में तब आता है जब वह load होता है । किसी  applet  को लोड करने के लिए  applet  क्लास के init () मैथड का प्रयोग किया जाता है । आवश्यकता होने पर एप्लेट क्लास के init ( ) मैथड ओवरराईड किया जा सकता है -