सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

software requirement in hindi

bluetooth in hindi - ब्लूटूथ क्या है

आज हम computers in hindi मे hindi mein bluetooth जानकारी देगे bluetooth in hindi(ब्लूटूथ क्या है?) - computer network in hindi के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- 

bluetooth in hindi (ब्लूटूथ क्या है):-

bluetooth ke bare mein , ब्लूटुथ एक open wireless Technique है जो कम दूरी पर उपस्थित devices में डेटा के आदान - प्रदान के लिए PAN ( personal area network ) बनाती है , तथा इसमें डेटा को सुरक्षा भी प्रदान करती है । 
ब्लूटुथ डेटा के आदान - प्रदान की एक तकनीक है जो कि wireless है । यह एक wire replacement communication technique अर्थात् ऐसी तकनीक जिसमें Conversations के लिए दो devices के बीच तार की आवश्यकता नहीं होती , इनके कार्य करने की दूरी सीमित होती है , ये अपनी गुणवत्ता व क्षमता के अनुसार कुछ ही मीटर्स की दूरी पर कार्य करते हैं । यह तकनीक अधिक महंगी नहीं होती है । इसका प्रयोग विभिन्न प्रकार के उपकरणों जैसे कि सैल्यूलर फोन , टेबलेट , कम्प्यूटर आदि में डेटा के आदान - प्रदान के लिए किया जाता है ।
ब्लूटुथ में विश्वसनीयता , गोपनीयता तथा सुरक्षा को प्राथमिकता दी जाती है । जब दो devices की पेयरिंग होती है , अर्थात् उन्हें आपस में माध्यम से जोड़ा जाता है तब एक प्रारम्भिक और एक मास्टर - की निर्धारित की जाती है । इसमें डेटा को आदान - प्रदान करने के लिए डेटा पैकेट्स को एनक्रिप्ट किया जाता है जिससे कि डेटा सुरक्षित रूप से नेटवर्क पर यात्रा कर ब्लूटुथ के सके ।
bluetooth in hindi : ब्लूटूथ क्या है

bluetooth architecture in hindi:-

bluetooth architecture लेयर प्रोटोकॉल की तरह है । जिसमें विभिन्न प्रकार के प्रोटोकॉल जैसे केबल रिप्लेसमेन्ट प्रोटोकॉल , टेलीफोनी रिप्लेसमेन्ट टोकॉल , एडोप्टेड प्रोटोकॉल आदि शामिल हैं । ब्लूटुथ के लिए जो प्रोटोकॉल necessarily आवश्यक है उनमें ( LMP - Link Management Protocol ) , ( LLAP - Logical Link and Adaption Protocol ) , ( SDP - Service Discovery Protocol ) हैं । यह फ्रीक्वेन्सी होपिंग स्प्रेड स्पैक्ट्रम तकनीक पर कार्य करती है । यह तकनीक भेजे जाने वाले डेटा को छोटे - छोटे भागों में विभाजित कर 79 बैण्ड तक पर भेजती है । मास्टर स्लेव संरचना पर कार्य करने वाली ब्लूटुथ तकनीक पैकेट आधारित प्रोटोकॉल का उपयोग करती है । एक मास्टर एक समय में 7 स्लेव के साथ स्थापित कर सकता है ।
कोई भी उपकरण जो कि पता लगाने योग्य अवस्था में हो वह जानकारी प्रेषित करता है 
  • उपकरण का नाम 
  • उपकरण की क्लास 
  • सेवाओं की लिस्ट 
  • टेक्नीकल सूचना 
कोई भी ब्लूटुथ उपकरण उसकी सीमा में आने वाले ब्लूटुथ उपकरण की जानकारी ले सकता है तथा कोई भी उपकरण मांगी गई जानकारी दे सकता है । जब दो उपकरणों की पेयरिंग होती है , अर्थात् उन्हें आपस में ब्लूटुथ के माध्यम से जोड़ा जाता है तब एक प्रारम्भिक और एक मास्टर - की निर्धारित की जाती है । इसमें डेटा को आदान - प्रदान करने के लिए डेटा पैकेट्स को एनक्रिप्ट किया जाता है जिससे कि डेटा सुरक्षित रूप से नेटवर्क के माध्यम से एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस पर भेजा जा सके ।

bluetooth technology in hindi:-

ब्लूटुथ टेक्नॉलॉजी एक ऐसी टेक्नॉलॉजी है जिसका उपयोग डेटा का आदान - प्रदान करने के लिए किया जाता है । यह तकनीक पूर्णतः wireless होती है इसलिए इसे open wireless भी कहा जाता है । यह तकनीक वायरलैस तो होती है परन्तु इसकी दूरी सीमित होती है अर्थात् यह एक निश्चित व कम दूरी पर ही कार्य कर सकती है । 
इस तकनीक का उपयोग करके जब डेटा की एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस में भेजा जाता है तो सर्वप्रथम ब्लूटुथ के द्वारा एक PAN ( personal area network ) बनाया जाता है जिसमें ब्लूटुथ डिवाइसेस को आपस में कनैक्ट किया जाता है उसके पश्चात् ही उनमें डेटा का आदान - प्रदान सम्भव हो पाता है ।
इस तकनीक में डेटा के आदान - प्रदान को सुरक्षित व गोपनीय रखने के लिए कुछ सुरक्षा के features भी होते हैं । इसके द्वारा जब PAN बनाया जाता है तब डिवाइसेस को आपस में कनैक्ट करने के लिए pass key मांगी जाती है । सही pass key इनपुट करने वाले डिवाइसेस ही उस PAN में जुड़ जाते हैं ताकि किसी unauthorized person को नेटवर्क में जुड़ने से रोका जा सके । 
अत : ब्लूटुथ एक open wireless तकनीक है जो कम दूरी पर उपस्थित उपकरणों में डेटा के आदान - प्रदान के लिए PAN ( personal area network ) बनाती है , तथा इसमें डेटा को सुरक्षा भी प्रदान करती है । यह तकनीक अधिक महंगी नहीं होती है । इसका प्रयोग विभिन्न प्रकार के उपकरणों जैसे कि सैल्यूलर फोन , टेबलेट , कम्प्यूटर आदि में डेटा के आदान - प्रदान के लिए किया जाता है ।

MAC layer bluetooth system :-

ब्लूटुथ तकनीक wireless कम्यूनिकेशन पर कार्य करती है , इसकी सहायता से डेटा को एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस में भेजा जाता है । यह कम दूरी पर तथा 2.4GHz बैण्डविड्थ पर कार्य करता है इसमें किसी तार का उपयोग नहीं किया जाता इसलिए इसे wireless LAN की श्रेणी में गिना जाता है । सिस्टम में मुख्यतः दो लेयर्स पर कार्य किया जाता है जिन्हें PHY ( physical layer ) MAC in hindi ( medium access control layer ) के नाम से जाना जाता है । 
MAC layer कई प्रकार के कार्य करती है । यह ना केवल medium access करती है बल्कि roaming, anthentication और power conservation को भी ब्लूटुथ support करती है । 
MAC layer का मुख्य कार्य physical layer से इन्टरफेस करना तथा डेटा के ट्रॉस्पिशन को सुनिश्चि करना होता है । इसके द्वारा डेटा को एक डिवाइस से दूसरी डिवाइस पर छोटे - छोटे पैकेट्स में अर्थात् छोटे छोटे टुकड़ों में भेजा जाता है । MAC layer मे यह भी निर्धारित किया जाता है कि ट्रांस्मिशन के लिए कम्यूनिकेशन बैण्ड उपलब्ध है या नहीं । MAC layer के द्वारा यह निर्धारण physical layer के mechanism के माध्यम से किया जाता है । कम्यूनिकेशन बैण्ड के उपलब्ध होने पर फ्रेम किए गए डेटा को ट्रांस्मिशन के लिए physical layer को hand over कर दिया जाता है। ब्लूटुथ सिस्टम में MAC layer का मुख्य कार्य physical layer से डेटा के ट्रांस्पिशन को सुनिश्चि करना होता है ।

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

foxpro commands in hindi

आज हम computers in hindi मे  foxpro commands  क्या होता है उसके कार्य के बारे मे जानेगे?   foxpro all commands in hindi  में  तो चलिए शुरु करते हैं-   foxpro commands in hindi:-  (1) Clear command in foxpro in hindi:-  इस  command  का प्रयोग  foxpro  की main स्क्रीन ( जहां रिकॉर्ड्स / Output प्रदर्शित होते हैं ) को Clear करने के लिए किया जाता है ।  (2) Modify Structure in foxpro in hindi :-  इस  command  का प्रयोग वर्तमान प्रयुक्त  डेटाबेस  फाईल के स्ट्रक्चर में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए किया जाता है । इसके द्वारा नये फील्ड भी जोड़े जा सकते हैं तथा पुराने फील्ड्स को हटाया व उनके साईज़ में भी परिवर्तन किया जा सकता है ।  (3) Rename in foxpro in hindi :-  इस  command  के द्वारा किसी  database  file का नाम बदला जा सकता है जिस फाईल को Rename करना हो वह मैमोरी में खुली नहीं होनी चाहिए ।   Syntax : Rename < Old filename > to < New filename >  Foxpro example: -  Rename Student.dbf to St.dbf (4) Copy file in foxpro in hindi :- इस command के द्वारा किसी एक डेटाबेस फाईल के रिकॉ

foxpro data type in hindi । फॉक्सप्रो

 आज हम computers in hindi मे फॉक्सप्रो क्या है?  Foxpro data type in hindi  कार्य के बारे मे जानेगे? How many data types are available in foxpro?    में  तो चलिए शुरु करते हैं-    How many data types are available in foxpro? ( फॉक्सप्रो में कितने डेटा प्रकार उपलब्ध हैं?):- FoxPro में बनाई गई डेटाबेस फाईल का एक्सटेन्शन नाम .dbf होता है । foxpro data type in hindi (फॉक्सप्रो डेटा प्रकार) :- Character data type Numeric data type Float data type Date data type Logical data type Memo data type General data type 1. Character data type :- Character data type  की फील्ड में अधिकतम 254 Character store किये जा सकते हैं । इस टाईप की फील्ड में अक्षर जैसे ( A , B , C , .......Z ) ( a , b , c , ...........z ) तथा इसके साथ ही न्यूमेरिक अंक ( 0-9 ) व Special Character ( + , - , / . x , ? , = ; etc ) आदि भी Store करवाए जा सकते हैं । इस प्रकार की फील्ड का प्रयोग नाम , पता , फोन नम्बर , शहर का नाम , पिता का नाम , माता का नाम आदि संग्रहित करने के लिए किया जाता है । 2. Numeric data type :- Numeric da

Management information system (MIS in hindi)

What is Management Information Systems (MIS) in hindi ? Introduction to management information system (MIS in hindi):-  बिजनेस प्रॉब्लम का समाधान प्राप्त करने के लिए युजर, तकनीक और प्रॉसीजर (procedure) एक साथ मिलकर  कार्य करते हैं। यूूूूजर तकनीक और प्रॉसीजर के सकलन को Information system  कहते हैं।   management information system definition :- जब इनफॉर्मेशन सिस्टम में निहित सभी भाग एक अनुशासन (Discipline) विधि से किसी बिजनेस प्रॉब्लम को हल करते हैं तो इस प्रक्रिया को Management information system ( MIS in hindi ) कहते हैं।   MIS कोई नवीन व्यवस्था नहीं है, कंप्यूटर के आगमन से पूर्व व्यवसाय की गतिविधियों का योजना निर्धारण और नियन्त्रण करने का कार्य इसी प्रकार की MIS विधि से ही सम्पन्न किया जाता था।  कंप्यूटर ने इस MIS व्यवस्था में नवीन आयामों  जैसे, गति (speed), शुद्धता (accuracy) और वृहद मात्रा में डेटा समापन को भी सम्मिलित कर दिया गया है। management, Information और system    को कंप्यूटर की सहायता से मिश्रित व्यावसायिक गतिविधियों को सम्पन्न किया जाता है।  किसी ऑर्गेनाइजेशन की ऑ