सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

What is Magnetic Tape in hindi

computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली) "U"

आज हम computer in hindi मे हम computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-
Computer glossary  "U"

Computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) "U" :-

• UCSD Pascal :-

पैस्कल भाषा का एक Edition ।

• UCSD P - system :-

आपरेटिंग सिस्टम , एक टेक्स्ट एडिटर , FORTRAN , BASIC तथा पैस्कल आदि के कम्पाइलर से युक्त एक प्रोग्राम। 

• full form in UDP:-

 यूजर डेटाग्राम प्रोटोकॉल का पूरा नाम ।

 • full form in ULSI :-

इसका पूरा नाम अल्ट्रा लार्ज स्केन इन्टीग्रेशन है । 

• full form in UMB :-

Upper Memory Block का पूरा नाम जिसमें 384KB का संरक्षित क्षेत्र होता है । 

• UNIVACI :-

1951 में यह पहला व्यावहारिक इलेक्ट्रानिक डिजिटल कम्प्यूटर बनाया गया था ।

• UNIX :-

एक ऑपरेटिंग प्रणाली जिसे 1970 में अमेरिकन टेलीफोन एवं टेलीग्राफ ने विकसित किया था । इसकी सहायता से अनेक व्यक्ति विभिन्न कम्प्यूटर पर एक प्रोग्राम में कार्य कर सकते है । 
• 

full form in UPC :-

यूनिवर्सल प्रोडक्ट कोड का पूरा नाम

• full form in UPS :-

Uninterrupted Power Supply का पूरा नाम

• full form in URL :-

इंटरनेट का प्रयोग करते समय उपयोग करने वाले व्यक्ति के नाम को यूनिवर्सल रिसोर्स लोकेटर कहा जाता है । 

• full form in US :-

Unserviceable का पूरा नाम

• Ultrafiche:-

 इमेज को उसके आकार से हजारों गुना छोटा करके इस फिल्म पर रिकार्ड करते हैं । 

• Ultrasonic:-

 मनुष्य को न सुनाई पड़ने वाली आवाज जिसकी आवृत्ति 20 = KHZ से अधिक होती है । 
-:Computer Glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Underflow:-

अपनी वास्तविक क्षमता से कम्प्यूटर द्वारा कम कार्य करना ।

• Unibus :-

यह circuit data transfer करने में बहुत तीव्र गति से काम करता है । 

• Unit :-

इकाई । 

• Uuniversal Language :-

समस्त विश्व में प्रयोग की जाने वाली एक प्रोग्रामिंग भाषा

• Unpack :-

डेटाबेस फाइल के वे रिकार्ड जिन्हें डिलीट किया जा चुका है ।

• Unset:-

 किसी विट के बाइनरी मान के बदलने की प्रक्रिया । 

• Up:-

 कम्प्यूटर द्वारा कार्य करना । 

• Up and Running :-

कम्प्यूटर में किसी सहायक उपकरण के लगते ही कार्य शुरू होना । 

• Update:-

 वर्तमान के अनुसार डेटा फाइलों को edited करते रहना ।

• Upgrade:-

 कम्प्यूटर हार्डवेयर को अत्यधिक सम्पन्न बनाना ।

• Upload :-

फाइल को मेलबॉक्स में या ऑन लाइन सेवा पर स्थानांतरण करने की प्रक्रिया अपलोड कहलाती है । 

• Upper Case :-

बड़े अक्षर जैसे , A , B , C , ... Z . 

• Upper Memory Block ( UMB ) :-

640 किलो बाइट से 1 मेगा बाइट के बीच का मेमोरी का ब्लॉक जो 386 कम्प्यूटर अथवा उससे अधिक क्षमता वाले कम्प्यूटर में होता है ।

• Upward Compatibility :-

हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर के वे edition जो नये Enhanced Edition पर भी चलाये जा सकते है । 

• Use :-

d BASE III , PWS , Fox BASE & Fox Pro भाषाओं में प्रयोग की जाने वाली एक कमांड जो डाटा को खोलने में प्रयुक्त होती है ।

• Usability:-

 कम्प्यूटर प्रयोग करने की व्यक्ति की क्षमता । 
-:Computer Glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• User:-

कम्प्यूटर प्रयोग करने वाला व्यक्ति । 

• User Defined Function:-

यह फंक्शन जिनके कार्य का निर्धारण users स्वयं करता है । 

• User Friendly :-

किसी सॉफ्टवेयर को सरलतापूर्वक प्रयोग करने से सम्बन्धित एक statement। 

• User Group:-

 कम्प्यूटर users का एक समूह 

• User Profile:-

users के संबंध की सूचना । 

• User Manual :-

एक ऐसी booklet , जिसमें संबंधित सारी बातों का mention रहता है । 

• User Defined Function :-

इस फंक्शन के कार्य का निर्धारण users स्वयं करता है ।

• User Defined Key:-

 की बोर्ड की वह की जिसके कार्य का निर्धारण users द्वारा होता है । 

• User Friendly :-

इस सॉफ्टवेयर या हार्डवेयर का प्रयोग सरलतापूर्वक किया जा सकता है । 

• User - oriented Language:-

 इस भाषा का प्रयोग कम्प्यूटर users द्वारा सरलतापूर्वक किया जा सकता है । 

• Utility :-

कम्प्यूटर को ठीक रखने के लिए इस प्रोग्राम का प्रयोग करते हैं ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ms excel functions in hindi

  आज हम  computer in hindi  मे ms excel functions in hindi(एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है)   -   Ms-excel tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- ms excel functions in hindi (एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है):- वर्कशीट में लिखी हुई संख्याओं पर फॉर्मूलों की सहायता से विभिन्न प्रकार की गणनाएँ की जा सकती हैं , जैसे — जोड़ना , घटाना , गुणा करना , भाग देना आदि । Function Excel में पहले से तैयार ऐसे फॉर्मूले हैं जिनकी सहायता से हम जटिल व लम्बी गणनाएँ आसानी से कर सकते हैं । Cell Reference में हमने यह समझा था कि फॉर्मूलों में हम जिन cells को काम में लेना चाहते हैं उनमें लिखी वास्तविक संख्या की जगह सरलता के लिए हम उन सैलों के Address की रेन्ज का उपयोग करते हैं । अत : सैल एड्रेस की रेन्ज के बारे में भी जानकारी होना आवश्यक होता है । सैल एड्रेस से आशय सैल के एक समूह या श्रृंखला से है । यदि हम किसी गणना के लिए B1 से लेकर  F1  सैल को काम में लेना चाहते हैं तो इसके लिए हम सैल B1 , C1 , D1 , E1 व FI को टाइप करें या इसे सैल Address की श्रेणी के रूप में B1:F1 टाइ

window accessories kya hai

  आज हम  computer in hindi  मे window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)   -   Ms-windows tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)  :- Microsoft Windows  कुछ विशेष कार्यों के लिए छोटे - छोटे प्रोग्राम प्रदान करता है इन्हें विण्डो एप्लेट्स ( Window Applets ) कहा जाता है । उनमें से कुछ प्रोग्राम उन ( Gadgets ) गेजेट्स की तरह के हो सकते हैं जिन्हें हम अपनी टेबल पर रखे हुए रहते हैं । कुछ प्रोग्राम पूर्ण अनुप्रयोग प्रोग्रामों का सीमित संस्करण होते हैं । Windows में ये प्रोग्राम Accessories Group में से प्राप्त किये जा सकते हैं । Accessories में उपलब्ध मुख्य प्रोग्रामों को काम में लेकर हम अत्यन्त महत्त्वपूर्ण कार्यों को सम्पन्न कर सकते हैं ।  structure of window accessories:- Start → Program Accessories पर click Types of accessories in hindi:- ( 1 ) Entertainment :-   Windows Accessories  के Entertainment Group Media Player , Sound Recorder , CD Player a Windows Media Player आदि प्रोग्राम्स उपलब्ध होते है

report in ms access in hindi - रिपोर्ट क्या है

  आज हम  computers in hindi  मे  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है)  - ms access in hindi  के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है):- Create Reportin MS - Access - MS - Access database Table के आँकड़ों को प्रिन्ट कराने के लिए उत्तम तरीका होता है , जिसे Report कहते हैं । प्रिन्ट निकालने से पहले हम उसका प्रिव्यू भी देख सकते हैं ।  MS - Access में बनने वाली रिपोर्ट की मुख्य विशेषताएँ :- 1. रिपोर्ट के लिए कई प्रकार के डिजाइन प्रयुक्त किए जाते हैं ।  2. हैडर - फुटर प्रत्येक Page के लिए बनते हैं ।  3. User स्वयं रिपोर्ट को Design करना चाहे तो डिजाइन रिपोर्ट नामक विकल्प है ।  4. पेपर साइज और Page Setting की अच्छी सुविधा मिलती है ।  5. रिपोर्ट को प्रिन्ट करने से पहले उसका प्रिन्ट प्रिव्यू देख सकते हैं ।  6. रिपोर्ट को तैयार करने में एक से अधिक टेबलों का प्रयोग किया जा सकता है ।  7. रिपोर्ट को सेव भी किया जा सकता है अत : बनाई गई रिपोर्ट को बाद में भी काम में ले सकते हैं ।  8. रिपोर्ट बन जाने के बाद उसका डिजाइन बदल