सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

computer glossary - कम्प्यूटर शब्दावली "C"

आज हम computer in hindi मे आज हम computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-

computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) "C" :-

• CAE :-

कम्प्यूटर ऐडेड इंजीनियरिंग का नाम । 

• CAI:-

 कम्प्यूटर असिस्ट इंस्ट्रक्शन का नाम 

• CAM :-

कम्प्यूटर ऐडेड मैन्युफैक्चरिंग का नाम 

• CBBS :-

कम्प्यूटराइज्ड बुलेटिन बोर्ड सर्विस का नाम 

• CBI :-

चार्ल्स बेवेज द्वारा स्थापित इंस्टीट्यूट को कम्प्यूटर के क्षेत्र में सी . बी . आई . के नाम से जाना जाता है ।

• CBL :-

किसी सॉफ्टवेयर का प्रशिक्षण लेना CBL कहलाता है ।

• CCD :-

एक साथ दो कार्य करने की क्षमता रखने वाला एक बदलने वाला device । 

• CE :-

इस शब्द का प्रयोग ' कस्टमर इंजीनियर ' के लिए किया जाता है । 

• CICS :-

इस शब्द का अर्थ है - कस्टमर इन्फार्मेशन कंट्रोल सिस्टम 

• CD :-

डॉयरेक्ट्री को बदलने का डॉस ( DOS ) में एक निर्देश ।

• CDL :-

Computer Description Language का छोटा रूप

• CDOT :-

Centre For Development Of Telematics का रूप । 

• CDOW:-

 d BASE का एक कार्य editing जो सप्ताह के दिन को वापस कैरेक्टर की दशा में आता है । 

• CDR :-

LISP में प्रयुक्त एक कार्य editing जो सूची के अंतिम मद पर आता है ।

• CD - ROM :-

Compact Disk Read Only Memory का छोटा रूप । 

• CE :-

इस शब्द का प्रयोग कस्टमर इंजीनियर के लिए किया जाता है। 

• CE :-

Chip Enable का  रूप

• CERT :-

यह Computer Emergency Response Team का नाम है । इसका निर्माण क्लियरिंग हाउस नेटवर्क पर उपलब्ध सूचनाओं की सुरक्षा के लिए किया गया है । 

• CIU:-

 कम्प्यूटर इंटरफेस यूनिट का रूप है । 

• CIX :-

कॉमर्शियल इंटरनेट एक्सचेंज professional रूप से इंटरनेट सुविधा को छोटे - छोटे स्तरों पर उपलब्ध कराता है ।

• COM Recorder :-

फोटो फिल्म पर आउटपुट रिकार्ड करने के लिए एक device ।

• COMDEX :-

यह Communication And Data Processing Exposition का रूप है । 

• COMIT :-

एक स्ट्रिंग जो प्रोसेसिंग करने के लिए प्रयोग में लायी जाती है।

 • COMSAT :-

कम्युनिकेशन की एक तकनीक जो Satellite द्वारा नियंत्रित होती है । 

• CP / M:-

 यह एक आपरेटिंग सिस्टम हैं , जिसका पूरा नाम कन्ट्रोल प्रोग्राम फॉर माइक्रोकम्प्यूटर है ।

• CPM :-

यह Critical Path Mathod का रूप 

• CPS :-

Character Per Second का रूप

• CPU :-

• CPU Time:-

 किसी प्रोग्राम को execute करने में सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट को लगा समय । 

• CR :-

Enter Key के लिए प्रयुक्त शब्द । 

• CRJE:-

 रिमोट टर्मिनलों के संचालन में प्रयोग की जाने वाली एक भाषा ।
 -:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• CROM :-

यह Control Read Only Memory का  रूप ! इसका प्रयोग सी . पी . यू . में लगे एक विशेष चिप के लिए किया जाता है । 

• CRT :-

Cathode Ray Tube का रूप इस शब्द का प्रयोग मॉनीटर में लगी पिक्चर ट्यूब के लिए करते हैं । 

• CRT Terminal :-

यह मॉनीटर का एक नाम है । 

• CSI :-

Computer Society Of India! भारत में स्थापित कम्प्यूटर विशेषज्ञों की एक संस्था । 

• Ctrl  :-

  इस शब्द - संक्षेप का प्रयोग , कम्प्यूटर की की - बोर्ड की एक ' की ' ( कंट्रोल Control ) के लिए किया जाता है ।

• Cable :-

कम्प्यूटर को Power Supply से जोड़ने के लिए प्रयुक्त तारों को केबल कहते हैं ।

• Cable Connector:-

 पावर सप्लाई से कम्प्यूटर को जोड़ने वाले केबल में लगे मेल - फीमेल प्लग 

• Ctrl:-

 इस शब्द का प्रयोग की - बोर्ड में लगी कंट्रोल की के लिए किया जाता है । 

• Cache :-

यह ब्राउजर में अस्थाई भण्डार क्षेत्र है , जिसमें वर्तमान में देखे गए वेब पृष्ठों की सूचनाएं होती हैं ।

• Cache Memory :-

डेटा को अस्थाई तौर पर स्टोर करने के लिए एक तेज गति की मेमोरी । 

• Cadd :-

कम्प्यूटर Computer Aided Design ANd Drafting

• Cadd Centre:-

 चेन्नई ( भारत ) में स्थित कम्प्यूटर प्रशिक्षण स्कूल जो Auto Cadd का प्रशिक्षण देता है । 

• Cage :-

एक frame जिसमें छपे हुए परिपथ कार्ड को चढ़ाया जाता है । 

• Calculator :-

गणित संबंधी कार्य करने के लिए एक मैकेनिकल या इलेक्ट्रॉनिक उपकरण ।

• Calculation :-

गणितीय कार्यों के लिए डेटा को प्रोसेस करने की क्रिया ।

• Centronics Interface:-

कम्प्यूटर और प्रिंटर को जोड़ने में प्रयोग किया जाने वाला एक इंटरफेस । प्रिंटर बनाने वाली कंपिनयां इस इंटरफेस का निर्माण करती हैं । 
 -:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Certificates :-

किसी वेब साइट की reliability को verified करने वाले Electronics Security Farm या डॉक्यूमेंट |

• Content :-

किसी वेब साइट पर फाइल , सॉफ्टवेयर , इन्फॉर्मेशन या ग्राफिक्स आदि का Content के रूप में किसी वेब साइट पर प्रदर्शन 

• Chat :-

इंटरनेट पर टाइप के द्वारा Conversations को कहते हैं ।

• Chat Room:-

 वह ऑनलाइन स्थान जहां इलेक्ट्रानिक्स संदेशों को पढ़ा व डाला जाता है । 

• Chain :-

Chain रिकार्डों के एक से दूसरे को जुड़े होने को कहते हैं ।

• Chain Field :-

रिकार्डों का आपस में , एक फील्ड में जुड़े रहना Chain Field कहलाता है । 

• Chain Printer:-

 प्रिंटिंग के लिए चेन रूपी हँड का प्रयोग किया जाने वाला एक तरह का प्रिंटर Chaining Chaining रिकार्डों के Sorted होकर आपस में जुड़ने की प्रक्रिया होती है ।

• Chaining Search :-

चेनिंग सर्च आपस में जुड़े रिकार्डों से आवश्यक रिकार्ड को ढूंढने की क्रिया होती है । 

• Channel Adapter:-

 कम्युनिकेशन को दो चैनलों के बीच शुरू करने वाला उपकरण ।

• Channel Capacity :-

डेटा कम्युनिकेशन में प्रयुक्त होने वाले उपकरणों द्वारा ज्यादा - से - ज्यादा चैनलों के उपयोग करने की क्षमता । 

• Channel Command :-

आगम / निर्गम चैनल द्वारा edited की गयी दिशा - निर्देश ।

• Chained List :-

एक inventory structure जिसमें प्रत्येक मद दूसरी मद का रास्ता बनाती है ।

• Chad :-

जब किसी भण्डार उपकरण में छेद करते समय वह टूट जाता है । 

• Chained File :-

ऐसी फाइल जहां प्रत्येक सूचना का समूह एक नया समूह बनाता है । 
 -:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

•Change Dump:-

स्मृति के सभी तत्वों की सूची जो पहले रिकार्ड की गयी घटनाओं में बदल जाती है । 

• Change File :-

सुधारी गयी सूचनाओं की फाइल |

• Character :-

Character की बोर्ड में उपस्थित अक्षर को कहा जाता है । 

• Character Addressable:-

 Byte Addressable के समान । 

• Character Density :-

संचित की गयी सूचनाओं का घनत्व जिसे प्रति इंच , प्रति से . मी . अथवा स्कवायर से.मी. ( इंच ) में प्रदर्शित किया जाता है। 

• Character Fill :-

खाली जगह को भरने के लिए प्रयुक्त किया गया खाली कैरेक्टर । 

• Character Generator :-

कम्प्यूटर का परिचय अथवा ऐसा प्रोग्राम जिससे वर्ण एवं संख्याएं कम्प्यूटर के पर्दे पर आती हैं अथवा प्रिंटर पर आती हैं। 

• Characteristic:-

 प्रवाहित बिन्दु गणना में किसी संख्या की explanation करना ।

• Character Machine:-

 बाइट मशीन से सम्बन्धित

• Character Map :-

पर्दे पर कैरेक्टर द्वारा प्रदर्शित समूहों का frame

• Character Oriented Protocol :-

वह Script जिसमें विशिष्ट कैरेक्टरों का प्रयोग किया जाता है।

• Character Per Second :-

कम गति के प्रिंटर के निर्गम को मापने की इकाई । 

• Character Pitch :-

प्रत्येक पंक्ति की दूरी में कुल कैरेक्टरों की संख्या को दर्शाता है। 

• Character String :-

वर्ण व अंकों के कैरेक्टरों की एक श्रेणी । 

• Character Code :-

अक्षरों को प्रयोग किया जाने वाला password।

• Character Recognition :-

मशीन द्वारा अक्षरों को पढ़ी जाने वाली तकनीक ।

• Character Per Inch:-

 अक्षरों की संख्या जो एक इंच टेप में स्टोर होते हैं । 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Recovery technique in dbms । रिकवरी। recovery in hindi

 आज हम Recovery facilities in DBMS (रिकवरी)   के बारे मे जानेगे रिकवरी क्या होता है? और ये रिकवरी कितने प्रकार की होती है? तो चलिए शुरु करतेे हैं- Recovery in hindi( रिकवरी) :- यदि किसी सिस्टम का Data Base क्रैश हो जाये तो उस Data को पुनः उसी रूप में वापस लाने अर्थात् उसे restore करने को ही रिकवरी कहा जाता है ।  recovery technique(रिकवरी तकनीक):- यदि Data Base पुनः पुरानी स्थिति में ना आए तो आखिर में जिस स्थिति में भी आए उसे उसी स्थिति में restore किया जाता है । अतः रिकवरी का प्रयोग Data Base को पुनः पूर्व की स्थिति में लाने के लिये किया जाता है ताकि Data Base की सामान्य कार्यविधि बनी रहे ।  डेटा की रिकवरी करने के लिये यह आवश्यक है कि DBA के द्वारा समूह समय पर नया Data आने पर तुरन्त उसका Backup लेना चाहिए , तथा अपने Backup को समय - समय पर update करते रहना चाहिए । यह बैकअप DBA ( database administrator ) के द्वारा लगातार लिया जाना चाहिए तथा Data Base क्रैश होने पर इसे क्रमानुसार पुनः रिस्टोर कर देना चाहिए Types of recovery (  रिकवरी के प्रकार ):- 1. Log Based Recovery 2. Shadow pag

Query Optimization in hindi - computers in hindi 

 आज  हम  computers  in hindi  मे query optimization in dbms ( क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन) के बारे में जानेगे क्या होता है और क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन (query optimization in dbms) मे query processing in dbms और query optimization in dbms in hindi और  Measures of Query Cost    के बारे मे जानेगे  तो चलिए शुरु करते हैं-  Query Optimization in dbms (क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन):- Optimization से मतलब है क्वैरी की cost को न्यूनतम करने से है । किसी क्वैरी की cost कई factors पर निर्भर करती है । query optimization के लिए optimizer का प्रयोग किया जाता है । क्वैरी ऑप्टीमाइज़र को क्वैरी के प्रत्येक operation की cos जानना जरूरी होता है । क्वैरी की cost को ज्ञात करना कठिन है । क्वैरी की cost कई parameters जैसे कि ऑपरेशन के लिए उपलब्ध memory , disk size आदि पर निर्भर करती है । query optimization के अन्दर क्वैरी की cost का मूल्यांकन ( evaluate ) करने का वह प्रभावी तरीका चुना जाता है जिसकी cost सबसे कम हो । अतः query optimization एक ऐसी प्रक्रिया है , जिसमें क्वैरी अर्थात् प्रश्न को हल करने का सबसे उपयुक्त तरीका चुना