सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

computer glossary in hindi - कम्प्यूटर शब्दावली "B"

आज हम computer in hindi मे आज हम computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-

computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) "B" :-

• Bi - state:-

 सिर्फ दो ही सम्भावनाओं वाली कम्प्यूटर components के बीच एक विशेष स्थिति । 

• Biquinary Code :-

दशमलव अंकों को प्रदर्शित करने के लिए 7 बिट कोड । 

• Bisam:-

 Basic Indexed Sequential Access Method का रूप 

• Bistable:-

 एक हार्डवेयर उपकरण जो केवल दो स्थिर स्थिति को मानता है - शुरू या अन्त , 1 या 0

• Bit Control :-

बिट्स को नियंत्रित करने के लिए डेटा ट्रांसमिशन में एक सिस्टम । 

• Bit Density :-

चुम्बकीय टेप की एक इकाई में संग्रह होने वाली बिट्स की संख्या ।

• Bit Image:-

 वह आकृति जो बिट की सहायता से बनती है । 

• Bit Manipulation:-

 यह बिट की ON या OFF स्थिति होती है । 

• Bit Map :-

एक तरह की ग्राफिक फाइल । 

• Bit Map Rate :-

वह गति जिसमें ट्रांसमिशन के समय बिट एक जगह से दूसरी जगह पर जाती है । 

• Bit Transfer Rate :-

यह बिट के स्थानान्तरित होने की दर होती है ।

• BIT Mapped Display :-

एक ऐसा प्रदर्शन जो रैम की commemoration से प्रत्येक कण को मिलाने से संबंधित है । 

• BIT Matrix :-

दो दिशाओं वाला ढांचा , जिसके बाइनेरी अंक 0 तथा 1 हैं ।

• BIT Oriented Protocol:-

 डेटा- बिट के विशिष्ट समूह को अलग करने के लिए एक अनोखी बिट - पद्धति । 

• BIT Pattern:-

 बिट का एक समूह जिसमें बिट की predetermined संख्या होती है जो एक बाइनेरी संख्या को बनाती है । 

• Bistable Device:-

 केवल दो ही स्थितियों वाला एक device । यह device या तो ऑन होगा या ऑफ । 

• Blackbox:-

 वातावरण की की समस्त क्रियाओं का संग्रह करने वाला एक इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिकल device। इसका प्रयोग हवाई जहाजों में किया जाता है ।

• Blanking :-

मॉनीटर पर मात्र cursor की उपस्थिति Blanking कहलाती है । 

• Blank :-

किसी भी माध्यम का एक हिस्सा जिसमें कोई  डेटा अथवा सूचना accumulated नहीं है । 

• Blind Search :-

ऐसी जांच जो Traditional methods से की जाती है तथा previous knowledge का प्रयोग नहीं किया जाता है अपितु सभी सम्भावनाओं को मानते हुए जांच की जाती है ।

• Blinking :-

graphical shadow अथवा image जो कार्य करने वालों का ध्यान अपनी ओर करने के लिए चमकती रहती है ।
-:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Blip :-

वीडियो अथवा especially radar के मॉनीटर पर चमकती हुई चीज 

• Blinking :-

cursor का मॉनीटर पर चमकना । 

Block :-

रिकार्डों का समूह । 

• Block Header :-

रिकाडों के समूह के लिए लिखित सूचना 

• Block Length :-

एक ब्लॉक की लंबाई Block Move   डेटा समूह के एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने की क्रिया 

• Block Structure :-

 डेटा समूह का आकार प्रकार । 

• Block Compaction :-

memory को shrink करने की एक method । 

• Block Copy :-

memory के community की copy ।

• Block Diagram:-

 Expansion से बनाये गये Flowchart के elements का Study करने से पूर्व बनाया गया एक आसान चित्र ।

• Block Gap :-

articles के बीच की दूरी । 

• Block List:-

 किसी फाइल के Format में फेरबदल किये बिना उसकी छाप लेना । 

• Block Sort:-

accumulation करने की वह तकनीक जो एक फाइल को विभिन्न खण्डों में विभाजित करता है ।
-:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Block Structure :-

 डेटा समूह के ढांचे को ब्लाक स्ट्रक्चर कहा जाता है ।

• Blocking :-

एक साथ दो या दो से अधिक logical records का आपस में जुड़ना Blocking कहलाता 

Blow Up :-

चलते - चलते अचानक प्रोग्राम का रुक जाना । 

• Blue Ribbon Programme :-

एक बार में ही पूर्ण रूप से शुद्ध हो जाने वाले प्रोग्राम |

• Board :-

बोर्ड शब्द Print Circuit Board के लिए प्रयोग में लाया जाता है । 

• Body Works:-

 मानव शरीर की प्रक्रिया का अध्ययन करने के लिए बनाया गया एक शैक्षिक सॉफ्टवेयर

• Bolar I.C. :-

एक ऐसा परिपथ जिसके सहायक अंगों के PNP और NPN के संधि बिंदु होते हैं ।

• Bold Printing :-

सॉफ्टवेयर के निर्देश पर प्रिंटर द्वारा अधिक Colored एवं मोटी छपाई की क्रिया । 

• Bomb :-

प्रोग्राम को क्षति पहुंचाने वाले वायरस के elements के विषय में बताता है । 

• Book Keeping :-

एकाउंट का हिसाब - किताब रखना । 

• Boolean Algebra :-

arguments के आपसी सम्बन्धों के चित्रों के माध्यम से revealed करने की प्रक्रिया ।

• Bootean Equation :-

क्रियाओं के समूह Theory को प्रयोग करना । 

• Boole , George ( 1815-1864 ) :-

इन्होंने argument की geometry को विकसित किया , जिसे बूलियन कहा जाता है । 

• Book Keeping :-

Account रखने की क्रिया । 

• Boolean Operator:-

 boolean algebra में प्रयुक्त होने वाले logical operator । 

• Borrow :-

अंकगणित रूप से ऋणात्मक , जिसमें घटाने की क्रियाएं होती हैं । 

• Brain Wave Interface :-

 हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर की वह क्षमता जिससे कम्प्यूटर मनुष्य के विचारों को पढ़ सकता है और बता सकता है। 
-:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Browser:-

 वर्ल्ड वाइड वेब W.W.W. पर सूचना प्राप्त करने में सहायक एक सॉफ्टवेयर को ब्राउजर कहते हैं । दो सर्वाधिक प्रचलित ब्राउजर नेटस्केप नेविगेटर तथा माइक्रोसॉफ्ट का इंटरनेट एक्सप्लोरर हैं । 

• Branch:-

प्रोग्राम की शाखा 

• Branch Instruction:-

 वे निर्देश जिनसे कम्प्यूटर alternate program execution करता है । 

• Branch Point :-

प्रोग्राम का प्रवाह बदलने के लिए कम्प्यूटर प्रोग्राम में दिया गया एक बिन्दु । 

• Bread Board :-

Electrical circuits को जांचने एवं परीक्षण करने के लिए प्रयोग किया जाता है । 

• Break:-

 Break शब्द का प्रयोग कम्प्यूटर द्वारा की जा रही ट्रांसमिशन या प्रोसेसिंग को बीच में रोकने के लिए होता है ।

• Break Key:-

 किसी प्रोग्राम के implementation को बीच में रोक देने वाली ' की बोर्ड ' की एक ' की ' । 

• Bridge :-

 डेटा की विभिन्न वार्तालाप लाइनों को जोड़ने में प्रयुक्त होने वाला अनेक बिन्दुओं वाला परिपथ 

• Bridgeware :-

भिन्न - भिन्न प्रकार से कम्प्यूटर के मय Adjustment स्थापित करने वाले कम्प्यूटर में प्रयुक्त प्रोग्राम

• Briefcase Computer :-

वह कम्प्यूटर जिसको एक Briefcases में बंद किया जा सके । 

• Brightness :-

मॉनीटर की चमक बढ़ाने के लिए प्रयोग होने वाला शब्द ।

• Brom:-

 Bipolar Read Only Memory का  रूप 

• Browse:-

 किसी दस्तावेज , सूचनाओं को पढ़ने का d BASE प्रोग्राम का एक अनुदेश 

• Browsing :-

किसी फाइल को खोलकर देखने की प्रक्रिया ।

• Brush :-

कम्प्यूटर में डिजाइन बनाते समय रंगों का प्रयोग करने वाला टूल ।
-:computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Bsam :-

Basic Sequential Access Method का रूप 

• B - tree :-

संतुलित ट्री का brief रूप , सूचनाओं की वापसी के लिए बिन्दुओं को एकत्रित करना । 

• Bubble Memory :-

सूचनाओं को संग्रहित रखने का एक स्थिर चुम्बकीय माध्यम

• Bubble Sort :-

छांटने का एक कार्य , जिसमें समूहों के भेदों के जोड़ों को आपस में तुलना की जाती है । 

• Buddy System :-

Memory को व्यवस्थित करने की method

• Built - in - check:-

 स्वचलित जांच 

• Burn In :-

इलेक्ट्रानिक उपकरणों एवं माध्यमों की reliability की जांच 

• Bus Topology :-

यह इलेक्ट्रानिक जान ( नेटवर्क ) की craftsmanship की explanation करती है । 

• Bucket:-

 डेटा समूह को स्टोर करने के लिए मेमोरी में बना चुम्बकीय स्थान 

• Bug:-

 बग प्रोग्राम में आने वाली त्रुटि को ( Error ) कहते हैं ।

• Bulk Storage :-

Large amount में  डेटा स्टोर किया जाने वाला एक स्टोरेज माध्यम 

• Bundle :-

सॉफ्टवेयर और  हार्डवेयर को एक साथ रखने वाला एक पैकेट । 

• Burning :-

प्रोग्रामिंग की प्रक्रिया जो Read Only Memory के अंतर्गत होती है । 

• Burst :-

संकेतों का एक क्रम जो  डेटा ट्रांसमिशन के समय होता है ।

• Burst Mode :-

  डेटा पढ़ने एवं लिखने की एक विधि ।

• Bus :-

 डेटा या इलेक्ट्रॉनिक सिगनल जिस मार्ग से एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचते हैं । 

•Bus Network :-

एक ही डिस्ट्रीब्यूशन चैनल से कई कम्प्यूटरों को जोड़ने वाला एक  नेटवर्क सिस्टम । 

• Business Graphics :-

कम्प्यूटर द्वारा तैयार किए गए व्यावसायिक क्षेत्रों में प्रयोग किये जाने वाले चार्ट , क्लिप आर्ट ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Recovery technique in dbms । रिकवरी। recovery in hindi

 आज हम Recovery facilities in DBMS (रिकवरी)   के बारे मे जानेगे रिकवरी क्या होता है? और ये रिकवरी कितने प्रकार की होती है? तो चलिए शुरु करतेे हैं- Recovery in hindi( रिकवरी) :- यदि किसी सिस्टम का Data Base क्रैश हो जाये तो उस Data को पुनः उसी रूप में वापस लाने अर्थात् उसे restore करने को ही रिकवरी कहा जाता है ।  recovery technique(रिकवरी तकनीक):- यदि Data Base पुनः पुरानी स्थिति में ना आए तो आखिर में जिस स्थिति में भी आए उसे उसी स्थिति में restore किया जाता है । अतः रिकवरी का प्रयोग Data Base को पुनः पूर्व की स्थिति में लाने के लिये किया जाता है ताकि Data Base की सामान्य कार्यविधि बनी रहे ।  डेटा की रिकवरी करने के लिये यह आवश्यक है कि DBA के द्वारा समूह समय पर नया Data आने पर तुरन्त उसका Backup लेना चाहिए , तथा अपने Backup को समय - समय पर update करते रहना चाहिए । यह बैकअप DBA ( database administrator ) के द्वारा लगातार लिया जाना चाहिए तथा Data Base क्रैश होने पर इसे क्रमानुसार पुनः रिस्टोर कर देना चाहिए Types of recovery (  रिकवरी के प्रकार ):- 1. Log Based Recovery 2. Shadow pag

Query Optimization in hindi - computers in hindi 

 आज  हम  computers  in hindi  मे query optimization in dbms ( क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन) के बारे में जानेगे क्या होता है और क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन (query optimization in dbms) मे query processing in dbms और query optimization in dbms in hindi और  Measures of Query Cost    के बारे मे जानेगे  तो चलिए शुरु करते हैं-  Query Optimization in dbms (क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन):- Optimization से मतलब है क्वैरी की cost को न्यूनतम करने से है । किसी क्वैरी की cost कई factors पर निर्भर करती है । query optimization के लिए optimizer का प्रयोग किया जाता है । क्वैरी ऑप्टीमाइज़र को क्वैरी के प्रत्येक operation की cos जानना जरूरी होता है । क्वैरी की cost को ज्ञात करना कठिन है । क्वैरी की cost कई parameters जैसे कि ऑपरेशन के लिए उपलब्ध memory , disk size आदि पर निर्भर करती है । query optimization के अन्दर क्वैरी की cost का मूल्यांकन ( evaluate ) करने का वह प्रभावी तरीका चुना जाता है जिसकी cost सबसे कम हो । अतः query optimization एक ऐसी प्रक्रिया है , जिसमें क्वैरी अर्थात् प्रश्न को हल करने का सबसे उपयुक्त तरीका चुना