सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

Featured Post

What is Magnetic Tape in hindi

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है - what is world wide web in hindi

आज हम internet technology in hindi मे हम वर्ल्ड वाइड वेब क्या है - what is world wide web in hindi के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- 

वर्ल्ड वाइड वेब क्या है - what is world wide web in hindi :-

Introduction in world wide web in hindi :-

आज इंटरनेट (what is internet in hindi (इंटरनेट क्या है) पर सूचनाएँ उपलब्ध हैं , ये information वेब पेज या वेब साइट के रूप में होती हैं , वेब साइट्स और वेब पेजेज की संख्या तेजी से बढ़ रही हैं । अगर आपको किसी विषय पर सूचना की आवश्यकता है तो उस विषय पर information के लिए method उपयोग में लायी जाएँ इसके लिए हमें सर्च इंजन या सर्च डायरेक्टरी का use करता है । सर्च इंजन सेवाओं की शुरुआत लगभग 10 वर्ष पहले हुई । आज ये सेवाएँ इस्तेमाल में आसान और गुणवत्ता की दृष्टि से कार्य कर रही हैं ।

सर्च इंजन - search engine in hindi :-

इंटरनेट से information प्राप्त करने के कई तरीके हैं । सबसे लोकप्रिय तरीका " सर्च इंजन " है । सर्च इंजन information को store तथा Updates के लिए इस process को अपनाते हैं । यह डाटाबेस reference experts द्वारा नहीं बनाए जाते बल्कि " स्पाइडर " ( spider ) नाम के कम्प्यूटर प्रोग्राम से तैयार किये जाते हैं । इन प्रग्रामों को " रोबोट " या " क्रोलर " ( Crawler ) के नाम से जाना जाता है ।समय - समय पर इंटरनेट में वे सूचनाएँ तथा विषय वस्तुएँ store करते हैं तथा सर्च इंजन के  डाटाबेस में जोड़ते जाते हैं । यह काम वेब पेज में हाइपरलिंक्स के माध्यम से किया जाता है।
सर्च इंजन अक्षरों की पहचान पेज datail और एचटीएमएल के द्वारा करते हैं । स्पाइडर टेक्लोलॉजी efficient और सक्षम होती है । एक अकेला स्पाइडर इंटरनेट को छान मारता है , ऐसा नहीं कि किसी सर्च इंजन को भेजे गए वेब पेज को हमेशा स्वीकार कर लिया जाएगा । सर्च इंजन सॉफ्टवेयर प्रोग्रामों का उपयोग कर वेब साइट्स और वेब पेजेज का listing करते हैं । ये प्रोग्राम मकड़ी की तरह वेब का चक्कर लगाते हैं और वेब designers द्वारा भेजे गए वेब साइट्स तक पहुँचते हैं । सभी सर्च इंजनों के स्पाइडर प्रोग्राम होते हैं जो वेब का चक्कर काटते हैं और उन्हें पढ़कर उनका listing करते हैं।

defined of search engine in hindi:- 

● store फाइलों का डाटाबेस । 
● स्पाइडर या रोबोट प्रोग्राम जो वेब पेजों की फाइलें बनाते हैं।
●  खोज प्रश्न टेक्नोलॉजी ।

types of search engine in hindi:-

1. Some personal search engines in hindi 
2. Meta Engine 

1. Some Personal Search Engine:-

 Personal Search Engine का उपयोग केवल एक डाटाबेस की खोज के लिए किया जाता है।

 2. Meta Engine :-

मेटा सर्च इंजन एक से अधिक डाटाबेस की search करते हैं । इन दो प्रकार के सर्च इंजनों में अंतर प्रत्येक search से प्राप्त परिणामों की संख्या के आधार पर किया जाता है । Personal Search Engine किसी डाटाबेस की सभी फाइलों को प्रदर्शित करते हैं , मेटा इंजन प्रति डाटाबेस 10 से 15 फाइलें देते हैं , मेटा सर्च इंजन information की तलाश के लिए कई सर्च इंजनों के एक साथ खोज करते हैं ।

सर्च डायरेक्टरी ( Search Directory ):-

सर्च डायरेक्टरी ऐसा वेब साइट है जिसमें इंटरनेट पर भेजे गये वेब साइटों की review humans द्वारा कीया जाता है , न कि सर्च इंजनों की तरह प्रोग्राम के द्वारा इंटरनेट को भेजे गये वेब साइट को किस category में रखा जाए और किस table के अंडर  listed किया जाए लेकिन इंटरनेट पर भेजे गये सभी वेब साइटों का technology कारण से registration नहीं हो पाता , यह भी हो सकता है वेब साइट में जिस विषयवस्तु का दावा किया गया हो वह नहीं हो । सर्च डायरेक्टरी इस तरह से बनायी जाती है । जिससे किसी वेब साइट से सम्बन्धित सारे reference किसी खास category के अंदर  आ जाए , जैसे - खेलकूद , पर्यटन , विज्ञान , आदि । 
इसके बाद उनकी sub categories बनायी जाती हैं । इसका लाभ यह होता है कि सूचना प्राप्त करना अधिक आसान हो जाता है । 
उदाहरण:- यदि आप किसी क्रिकेट मैच का ताजा स्कोर जानना चाहते हैं तो पहले आपको “ खेल " के अंदर जाना होगा , इसके बाद आप " क्रिकेट " और फिर “ स्कोर " में जाएंगे अर्थात् Games > Cricket Scorel सर्च डायरेक्टरी information खोजने के लिए बड़ी उपयोगी होती है । 
main serach engine:- yahoo!, LookSmart, OpenDirectory 

वर्ल्ड वाइड वेब का इतिहास ( History of World Wide Web ) :-

वर्ल्ड वाइड वेब से पहले इंटरनेट को operated करना , सूचनाओं को प्राप्त करना एवं उनका उपयोग करना कठिन था । फाइलों को locate तथा download करने के लिये का सहारा लेना पड़ता था जो कि के बाद आसान हो गया । Tim Berners Lee को हम वर्ल्ड वाइड वेब के पिता के रूप में पहचानते हैं । बर्नर , स्विट्जरलैण्ड में स्थित , European organization Nuclear Research नामक प्रयोशगाला में भौतिकशास्त्री थे । टिम , इंटरनेट के operated तथा उसके प्रयोग में आने वाली कठिनाइयों के कारण निराश हो चुके थे । टिम ने Europeon organization ( CERN ) में अपनी खोज , साझेदारी तथा अपने साथियों के साथ communication के माध्यम से इंटरनेट पर लगातार कार्य किया । टिम पहले से ही समस्या को जानते थे । इसीलिये उन्होंने कार्य को आसान करने के लिये एवं इंटरनेट को आसानी से operated करने के लिए एक सिस्टम को तैयार किया । सन् 1989 में , उन्होंने वर्ल्ड वाइड वेब सिस्टम के प्रस्ताव को European organization for Nuclear Research के इलेक्ट्रोनिक्स एवं कम्प्यूटिंग विभाग के सामने present किया तथा प्रस्ताव पर Feed Back प्राप्त करने के बाद अपने सहयोगी Robert Calilliao के साथ Revised कर इस प्रस्ताव को दोबारा Presented किया । यह प्रस्ताव स्वीकार कर लिया गया एवं commercial form से यह प्रोजेक्ट शुरू हो गया । प्रोजेक्ट के विकास के लिये finance provide किया गया एवं सन् 1991 में इसकी hint जनता के लिये गयी ताकि जनता इंटरनेट पर नये विकास को समझ सकें । फरवरी , 1993 में नेशनल सेन्टर फॉर सुपर कम्प्यूटिंग एप्लीकेशन द्वारा का पहला Edition मोजेक ( Mosaic ) जनता के लिये प्रदान किया गया । यह एक आधारभूत सॉफ्टवेयर उत्पाद था जिसने इंटरनेट को नयी ऊँचाई प्रदान की । यह एक User Friendly Graphical User Interface ( GUI ) प्रदान करता है । इसके मोजेक माउस के प्रयोग की अनुमति देता है , अर्थात् कोई user बिना keyboard के भी इसका प्रयोग कर सकता है । अंत में एक साल बाद अप्रेल , 1994 में National Science Foundation ( NSF ) ने यह महसूस किया कि वेब ने सफलता की नई ऊँचाई प्राप्त कर ली है तथा लोगों ने वर्ल्ड वाइड वेब का उपयोग शुरू कर दिया है।

www and Home page :-

कोई भी संगठन , संस्था , कंपनी या व्यक्ति इस सुविधा का उपयोग कर सकता है । इसमें अपने बारे में एवं अपने उत्पाद से संबंधित दी जाने वाली सुविधाओं तथा अपनी branches से संबंधित जानकारी दी जा सकती है , यह प्रचार का सबसे सस्ता व आसान उपाय है ।
होमपेज पर written के अलावा ग्राफ , तस्वीरें , कार्टून , यहाँ तक कि ध्वनि भी की जा सकती है । आजकल तो होमपेज पर मल्टीमीडिया ( गाने , पिक्चर ) आदि भी है । होमपेजों को एक साथ एक category में रखा जा सकता है और pages के नाम के तहत उनका classification हो सकता है । इंटरनेट से जुड़े अनेक कम्प्यूटरों में सूचना store है । नेट पर ये सूचनायें आसानी से उपलब्ध हैं । इसमें पुरानी और नई लोकप्रिय किताबें , विशेष लेख , अखबारी , दुनियाभर के विभिन्न विश्वविद्यालयों के Research Paper आदि शामिल हैं । पूरी पत्रिकायें व अखबार भी इस पर हैं । 

World Wide Web and Web Page:-

वेब पेज एक वर्ल्ड वाइड document से ज्यादा कुछ भी नहीं होता है , एक Word Processing document होता है । इस तरह हम कह सकते हैं कि वेब पेज , वेब पर उपलब्ध एक hypertext document होता है या hypermedia की वह यूनिट जो वर्ल्ड वाइड वेब पर उपलब्ध रहती है । उसे वेबपेज कहते हैं । इसको बनाने के लिये हमें HTML ( hypertext markup language ) का इस्तेमाल करना पड़ता है । 

Structure of a Web Page in hindi :-

1. Head 
2. Body

1. Head :-

यह किसी वेब पेज का पहला हिस्सा होता है , इसमें पेज का शीर्षक तथा अन्य Parameter रहते हैं जिन्हें Browser द्वारा प्रयोग में लाया जाता है । 

2. Body :-

किसी पेज के वास्तविक contents पेज के इस हिस्से में रहते हैं और वह content , Text व Tag को शामिल रखते है । 

वेब साइंट ( Web site in hindi):-

 वेबसाइट वेब पेजों से मिलकर बनी होती है । अपने व्यवहार के अनुसार वेब एक पेज दूसरे के मध्य link प्रदान करता है जो कि चाहे अलग - अलग पेजों में ही क्यों न हो । एक पेज दूसरे अलग पेजों से link बना सकता है चाहें उनमें फोटो , कार्टून या कोई अन्य सामग्री हो।

Web Browser :-

वेब ब्राउजर एक ऐसा क्लाइंट प्रोग्राम है जिसमें www पर सभी प्रकार की वेब साइट और वेब पेज खोले जा सकता हैं । इसका use इंटरनेट पर सारी सुविधाओं को वर्ल्ड वाइड वेब के माध्यम से ऐक्सेस करने में किया जाता है ।
वेब ब्राउजर , एक वर्ल्ड वाइड वेब क्लाइंट एप्लीकेशन प्रोग्राम है जिसका उपयोग हाइपरटैक्स्ट डॉक्यूमेंट तथा वेब पर उपलब्ध अन्य html documents को लिंक के माध्यम से प्राप्त करने में किया जाता है । वेब ब्राउजर एक ऐसा प्रोग्राम है जिसके माध्यम से इंटरनेट सर्फिंग ( surfing ) करते हैं । वर्ल्ड वाइड वेब की विशेषता यह है कि वह किसी भी वेब ब्राउजर पर खुल सकता है । इसलिए हम अपने कम्प्यूटर में किसी भी प्रकार का वेब ब्राउजर प्रयोग कर सकते हैं ।

निवेदन :- अगर आपके लिए यह post थोडा भी useful रहा है तो इसे अपने friends के साथ Facebook, Instagram , telegram और whatsapp में share करिये और आपके subjects से related कोई प्रश्न हो तो नीचे comment में बताइये 
Thanks / धन्यवाद

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

ms excel functions in hindi

  आज हम  computer in hindi  मे ms excel functions in hindi(एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है)   -   Ms-excel tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- ms excel functions in hindi (एमएस एक्सेल में फंक्शन क्या है):- वर्कशीट में लिखी हुई संख्याओं पर फॉर्मूलों की सहायता से विभिन्न प्रकार की गणनाएँ की जा सकती हैं , जैसे — जोड़ना , घटाना , गुणा करना , भाग देना आदि । Function Excel में पहले से तैयार ऐसे फॉर्मूले हैं जिनकी सहायता से हम जटिल व लम्बी गणनाएँ आसानी से कर सकते हैं । Cell Reference में हमने यह समझा था कि फॉर्मूलों में हम जिन cells को काम में लेना चाहते हैं उनमें लिखी वास्तविक संख्या की जगह सरलता के लिए हम उन सैलों के Address की रेन्ज का उपयोग करते हैं । अत : सैल एड्रेस की रेन्ज के बारे में भी जानकारी होना आवश्यक होता है । सैल एड्रेस से आशय सैल के एक समूह या श्रृंखला से है । यदि हम किसी गणना के लिए B1 से लेकर  F1  सैल को काम में लेना चाहते हैं तो इसके लिए हम सैल B1 , C1 , D1 , E1 व FI को टाइप करें या इसे सैल Address की श्रेणी के रूप में B1:F1 टाइ

window accessories kya hai

  आज हम  computer in hindi  मे window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)   -   Ms-windows tutorial in hindi   के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं- window accessories kya hai (एसेसरीज क्या है)  :- Microsoft Windows  कुछ विशेष कार्यों के लिए छोटे - छोटे प्रोग्राम प्रदान करता है इन्हें विण्डो एप्लेट्स ( Window Applets ) कहा जाता है । उनमें से कुछ प्रोग्राम उन ( Gadgets ) गेजेट्स की तरह के हो सकते हैं जिन्हें हम अपनी टेबल पर रखे हुए रहते हैं । कुछ प्रोग्राम पूर्ण अनुप्रयोग प्रोग्रामों का सीमित संस्करण होते हैं । Windows में ये प्रोग्राम Accessories Group में से प्राप्त किये जा सकते हैं । Accessories में उपलब्ध मुख्य प्रोग्रामों को काम में लेकर हम अत्यन्त महत्त्वपूर्ण कार्यों को सम्पन्न कर सकते हैं ।  structure of window accessories:- Start → Program Accessories पर click Types of accessories in hindi:- ( 1 ) Entertainment :-   Windows Accessories  के Entertainment Group Media Player , Sound Recorder , CD Player a Windows Media Player आदि प्रोग्राम्स उपलब्ध होते है

report in ms access in hindi - रिपोर्ट क्या है

  आज हम  computers in hindi  मे  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है)  - ms access in hindi  के बारे में जानकारी देगे क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-  report in ms access in hindi (रिपोर्ट क्या है):- Create Reportin MS - Access - MS - Access database Table के आँकड़ों को प्रिन्ट कराने के लिए उत्तम तरीका होता है , जिसे Report कहते हैं । प्रिन्ट निकालने से पहले हम उसका प्रिव्यू भी देख सकते हैं ।  MS - Access में बनने वाली रिपोर्ट की मुख्य विशेषताएँ :- 1. रिपोर्ट के लिए कई प्रकार के डिजाइन प्रयुक्त किए जाते हैं ।  2. हैडर - फुटर प्रत्येक Page के लिए बनते हैं ।  3. User स्वयं रिपोर्ट को Design करना चाहे तो डिजाइन रिपोर्ट नामक विकल्प है ।  4. पेपर साइज और Page Setting की अच्छी सुविधा मिलती है ।  5. रिपोर्ट को प्रिन्ट करने से पहले उसका प्रिन्ट प्रिव्यू देख सकते हैं ।  6. रिपोर्ट को तैयार करने में एक से अधिक टेबलों का प्रयोग किया जा सकता है ।  7. रिपोर्ट को सेव भी किया जा सकता है अत : बनाई गई रिपोर्ट को बाद में भी काम में ले सकते हैं ।  8. रिपोर्ट बन जाने के बाद उसका डिजाइन बदल