सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली) "L"

आज हम computer in hindi मे हम computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) के बारे में जानकारी देते क्या होती है तो चलिए शुरु करते हैं-

Computer glossary in hindi (कम्प्यूटर शब्दावली) "L" :-

• full form in LAN :-

इसका पूरा नाम लोकल एरिया नेटवर्क है । 

• full form in LCM :-

Lowest Common Multiple 

• full form in LED :-

इसको लाइट इमिटिंग डायोड कहते हैं । 

• LF :-

प्रिंटर द्वारा पेज को एक पंक्ति आगे खिसकाना । 

• LIPS :-

पांचवीं पीढ़ी के कम्प्यूटरों की गति को मापने के लिए निर्धारित इकाई । 

• LISP :-

वह हाई लेवल लँग्वेज , जो डेटा प्रोसेसिंग के लिए प्रयोग की जाती है । 

• LISP Machine :-

LISP भाषा को प्रयोग किया जाने वाला कम्प्यूटर

• LOGO :-

ग्राफिक्स का निर्माण करने के लिए कम्प्यूटर में प्रयोग की जाने वाली हाई लेवल प्रोग्रामिंग भाषा । 

• LP :-

इसे लाइन प्रिंटर और लिनिअर प्रोग्रामिंग के नाम से भी जाना जाता है । 

• LPM :-

प्रिंटर के द्वारा एक मिनट में प्रिंट होने वाली पंक्तियां ।

• LPT1 , LPT2 , LPT3 :-

माइक्रो कम्प्यूटर के पहले , दूसरे व तीसरे प्रिंटर के पोर्ट के नाम । 

• full form in LSB :-

Least Significant Bit 

• full form in LSD :-

Least Significant Digit 

 • full form in LSI :-

Large scale Integration 

• Lable :-

डिस्क आपरेटिंग सिस्टम का एक कमांड , जिसके द्वारा हार्डडिस्क और फ्लापी डिस्क का वाल्यूम लेबल बदलते हैं ।
-:Computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Label Record :-

एक मैग्नेटिक अभिलेख जिसमें किसी फाइल के विषय में सूचना निहित होती है । 

• Lag :-

किन्हीं दो मैकेनिकल spares में एक दूसरे से संबंधित अंतर

• Land:-

 प्रिंटिड सर्किट बोर्ड का हिस्सा जहां पर रेजिस्टर , ट्रांजिस्टर आदि spares लगाए जा सकते हों ।

• Language Translation:-

 इस विधि द्वारा किसी एक भाषा की सूचनाओं को दूसरी भाषा में बदलते हैं ।

• Language Translator Program:-

 एक भाषा की सूचनाओं को दूसरी भाषा में बदलने वाला प्रोग्राम । 

• Landscapes :-

माइक्रोसॉफ्टवेयर का बनाया हुआ माइक्रो - कम्प्यूटर के लिए एक सॉफ्टवेयर । 

• Language Translators :-

ऐसा प्रोग्राम जो एक भाषा को दूसरी भाषा में बदलने में प्रयुक्त होता है । 

• full form in Lap:-

 Line Access Protocol

• Lap Computer:-

 इस कम्प्यूटर का पैरों पर रखकर भी प्रयोग किया जा सकता है । 

• Laser:-

 एक विशेष प्रकार की किरणें इन किरणों द्वारा आजकल प्रिंटिंग की जाती है । 

• Laser Writer:-

 Apple का एक प्रकार का लेजर प्रिंटर जिसमें मोटरोला 68020 चिप एवं 2M . Byte को RAM होती है ।

• Latency :-

मैग्नेटिक डिस्क से सम्बन्धित एक Item 

• Lattice :-

एक algebraic framework , Booklean बीज गणित की तरह । 

• Layer :-

किसी भी प्रकार की ग्राफिक फाइल का निर्माण इस पर्त के ऊपर कर सकते हैं । यह सुविधा फोटोशॉप जैसे सॉफ्टवेयर में होती है । 

• Layout :-

किसी वस्तु का पूरा डिजाइन या रेखाचित्र Leading दो पंक्तियों के मध्य के अन्तराल को Leading कहते हैं ।
-:Computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Leader:-

टेप में संचित सूचनाओं से पहले का खाली स्थान ।

• Leading Edge :-

किसी पंचकार्ड का किनारा , जिसे कार्ड रीडर में डालते समय सबसे पहले डालना चाहिए । 

• Leased Line :-

वे टेलीफोन लाइनें जो इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा प्रयोग की जाती हैं ।

• Lease:-

 कम्प्यूटर प्रणाली को किराये पर प्राप्त करने का एक तरीका ।

• Line Chart :-

इस ग्राफ द्वारा डेटा का comparative study करने के लिए एक तरह का ग्राफ 

• Line Circuit :-

डेटा कम्यूनिकेशन के लिए प्रयोग की जाने वाली केबलें या लाइनें । 

• Line Drawing:-

 वह रेखाचित्र जिनके निर्माण में लाइनों का प्रयोग होता है ।

• Line Speed :-

डेटा ट्रांसमिशन के समय डेटा की गति । 

• Line Voltage:-

 ए सी विद्युत प्रवाह को Line Voltage कहते हैं  

• Line Width:-

 रेखा चित्र में बनी लाइन की मोटाई ।

• Linear Programming :-

ऐसी प्रोग्रामिंग जो किसी विशेष समस्या के समाधान हेतु की जाने वाली हो । 

• Linear Structure:-

डेटाबेस के रिकार्डों के एक sorted समूह को Linear Structure कहते हैं । 

• Liner IC:-

 इसे एनालाग इन्टीग्रेटिड सर्किट कहते हैं । 

• Linkage:-

दो अलग - अलग प्रकार के दो प्रोग्रामों को आपस में जोड़ने वाली कोडिंग । 

• Linker :-

छोटे - छोटे प्रोग्रामों को आपस में जोड़ने वाला प्रोग्राम । 

• Lisa :-

एप्पल कम्पनी द्वारा बनाया गया कम्प्यूटर । 

• List Processing Language :-

बहुत बड़ी मात्रा में डेटा प्रोसेसिंग में प्रयोग होने वाली भाषाएं।

• Listing:-

 प्रिंटर द्वारा डेटाबेस का प्रिंट किया हुआ प्रिंट आउट ।
-:Computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Literal:-

प्रोग्रामिंग के दौरान कम्प्यूटर में प्रयोग किए जाने वाले कान्स्टेंट का दूसरा नाम । 

• Liva Data :-

कम्प्यूटर प्रोग्राम के द्वारा प्रोसेस किया जाने वाला डेटा ।

• Lims :-

Lotus - Intel - Microsoft का गठबंधन 

• Line Hit :-

डाटा के ट्रांसमिशन में संकेतों में किसी गलती के कारण आयी बाधा । 

• Load Point :-

कम्प्यूटर में प्रयोग की जा रही चुम्बकीय टेप का वह स्थान जहां से डेटा स्टोर होना शुरू होता है । 

• Load Sharing :-

इस तकनीक द्वारा दो या दो से अधिक कम्प्यूटर आपस में मिलकर बड़ी मात्रा में डेटा प्रोसेस करते हैं । 

• Local Storage:-

 कम्प्यूटर के सी पी यू ( CPU ) में सामान्य रजिस्टरों का समूह जो ALU के लिए हर समय उपलब्ध है । 

• Local Terminal:-

 वह टर्मिनल जो मुख्य कम्प्यूटर के पास लगा होता है , जिसे Prima facie रूप से इससे जोड़ा जा सकता है ।

• Logic :-

वह Argument जिस पर प्रोग्रामिंग आधारित होती है ।

• Log Off:-

 वह प्रक्रिया जिसके द्वारा प्रोग्रामर अपना कार्य समाप्त करता है । 

• Logic Family:-

 इलैक्ट्रानिक उपकरणों की एक श्रृंखला जिसे एक ही उत्पाद तकनीक से बनाया गया है ।

• Logic File :-

किसी डिस्क अथवा टेप में सुरक्षित किसी फाइल को बनाने वाला नाम 

• Logic Logon:-

 वह प्रक्रिया जिसके द्वारा कोई ऑपरेटर अथवा प्रयोगकर्ता कम्प्यूटर से परिचित होता है । 

• Logic Programming Language :-

एक प्रकार की प्रोग्रामिंग भाषा

• Logic Card:-

 कम्प्यूटर में लगे उपकरणों या डेटा प्रोसेसिंग की प्रक्रिया को नियंत्रित करने वाले सर्किट । 

• Logic Diagram :-

किसी सर्किट को logical व sorted तरीके से दर्शाया गया रेखाचित्र । 
-:Computer glossary (कम्प्यूटर शब्दावली):-

• Logic Element:-

इस उपकरण द्वारा कोई कार्य logical way से सम्पन्न होता है ।

• Logic Gates :-

डिजिटल सर्किट में प्रयोग किया जाने वाला कम्पोनेंट

• Logic Operator :-

कोई भी बुलियन आपरेट , जैसे OR , AND , NOR ....

• Logic Seeking :-

प्रिंटर की वह विशेषता जिसके द्वारा यह कम्प्यूटर के साथ प्रयोग किए जा रहे प्रिंटिंग का सबसे छोटा रास्ता ढूंढ़ लेता है ।

• Logic Symbol :-

logic elements को चित्र द्वारा show करने में सहायता करने वाला Sign

• Logic Theorist:-

 ऐसे प्रोग्राम जो सूचनाओं को sorted व duly करने के लिए प्रयोग किए जाते हैं । 

• Logic Theory:-

 जिस विज्ञान पर कम्प्यूटर आधारित होता है Logic Theory कहलाता है । 

• Logical Data Design :-

रेखाचित्र जिसमें डेटा के प्रोसेस होने के ढंग को logical ढंग से Revealed किया जाता है । 

• Logical Decision:-

 किसी परिणाम को प्राप्त करने के लिए कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग में लिया गया logical निर्णय 

• Logical Error :-

इस गलती द्वारा प्रोग्राम गलत ढंग से डेटा प्रोसेस करने लगता है । 

• Logical File :-

एक या एक से अधिक लाजिकल डेटा को जिस फाइल द्वारा जमा करते हैं Logical File कहलाती हैं । 

• Logical Instruction :-

यह निर्देश जिनमें AND OR जैसे लाजिकल आपरेटरों का प्रयोग किया जाता है ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Recovery technique in dbms । रिकवरी। recovery in hindi

 आज हम Recovery facilities in DBMS (रिकवरी)   के बारे मे जानेगे रिकवरी क्या होता है? और ये रिकवरी कितने प्रकार की होती है? तो चलिए शुरु करतेे हैं- Recovery in hindi( रिकवरी) :- यदि किसी सिस्टम का Data Base क्रैश हो जाये तो उस Data को पुनः उसी रूप में वापस लाने अर्थात् उसे restore करने को ही रिकवरी कहा जाता है ।  recovery technique(रिकवरी तकनीक):- यदि Data Base पुनः पुरानी स्थिति में ना आए तो आखिर में जिस स्थिति में भी आए उसे उसी स्थिति में restore किया जाता है । अतः रिकवरी का प्रयोग Data Base को पुनः पूर्व की स्थिति में लाने के लिये किया जाता है ताकि Data Base की सामान्य कार्यविधि बनी रहे ।  डेटा की रिकवरी करने के लिये यह आवश्यक है कि DBA के द्वारा समूह समय पर नया Data आने पर तुरन्त उसका Backup लेना चाहिए , तथा अपने Backup को समय - समय पर update करते रहना चाहिए । यह बैकअप DBA ( database administrator ) के द्वारा लगातार लिया जाना चाहिए तथा Data Base क्रैश होने पर इसे क्रमानुसार पुनः रिस्टोर कर देना चाहिए Types of recovery (  रिकवरी के प्रकार ):- 1. Log Based Recovery 2. Shadow pag

Query Optimization in hindi - computers in hindi 

 आज  हम  computers  in hindi  मे query optimization in dbms ( क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन) के बारे में जानेगे क्या होता है और क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन (query optimization in dbms) मे query processing in dbms और query optimization in dbms in hindi और  Measures of Query Cost    के बारे मे जानेगे  तो चलिए शुरु करते हैं-  Query Optimization in dbms (क्वैरी ऑप्टीमाइजेशन):- Optimization से मतलब है क्वैरी की cost को न्यूनतम करने से है । किसी क्वैरी की cost कई factors पर निर्भर करती है । query optimization के लिए optimizer का प्रयोग किया जाता है । क्वैरी ऑप्टीमाइज़र को क्वैरी के प्रत्येक operation की cos जानना जरूरी होता है । क्वैरी की cost को ज्ञात करना कठिन है । क्वैरी की cost कई parameters जैसे कि ऑपरेशन के लिए उपलब्ध memory , disk size आदि पर निर्भर करती है । query optimization के अन्दर क्वैरी की cost का मूल्यांकन ( evaluate ) करने का वह प्रभावी तरीका चुना जाता है जिसकी cost सबसे कम हो । अतः query optimization एक ऐसी प्रक्रिया है , जिसमें क्वैरी अर्थात् प्रश्न को हल करने का सबसे उपयुक्त तरीका चुना