Skip to main content

Posts

advanced excel worksheet

microsoft office excel  में आज हम   MS excel  के Advanced Handling in Excel Worksheet और उसमें कार्य के बारे मे जानेगे क्या होता है ? Excel वर्कशीट में एडवांस हैंडलिंग  और उसमें कार्य हिन्दी में  तो चलिए शुरु करते हैं- Creating a Workbook (Workbook Create करना):- microsoft office excel में नई workbook create करने के लिए Templates का प्रयोग करते हैं । Template एक रेडीमेड workbook होती है , जो प्रयोग के लिए सदैव काम में लाई जाती है । इसके लिए  1. File मेन्यू पर क्लिक करें ।  2. New विकल्प पर क्लिक करने पर New का डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देता है । 3. एक blank worksheet तैयार करने के लिए माउस द्वारा General टैब पर क्लिक करें ।  4. Work book आइकन पर डबल क्लिक करें या OK बटन पर क्लिक करें । इस तरह चुने गए template से वर्कबुक create हो जाती है , जिसमें हम एक जैसे कार्यों के लिए कई वर्कशीट रख सकते हैं । save this workbook as an excel template (Workbook को Template की तरह Save करना):- microsoft office excel में अपनी वर्कबुक को यदि Template की तरह save करना चाहते हैं तो Save As t
Recent posts

Management information system (MIS)

What is Management Information Systems (MIS) in hindi ? Introduction to management information system:-  बिजनेस प्रॉब्लम का समाधान प्राप्त करने के लिए युजर, तकनीक और प्रॉसीजर (procedure) एक साथ मिलकर  कार्य करते हैं। यूूूूजर तकनीक और प्रॉसीजर के सकलन को Information system  कहते हैं।  जब इनफॉर्मेशन सिस्टम में निहित सभी भाग एक अनुशासन (Discipline) विधि से किसी बिजनेस प्रॉब्लम को हल करते हैं तो इस प्रक्रिया को Management information system (MIS) कहते हैं।  MIS कोई नवीन व्यवस्था नहीं है, कंप्यूटर के आगमन से पूर्व व्यवसाय की गतिविधियों का योजना निर्धारण और नियन्त्रण करने का कार्य इसी प्रकार की MIS विधि से ही सम्पन्न किया जाता था।  कंप्यूटर ने इस MIS व्यवस्था में नवीन आयामों  जैसे, गति (speed), शुद्धता (accuracy) और वृहद मात्रा में डेटा समापन को भी सम्मिलित कर दिया गया है। management, Information और system   को कंप्यूटर की सहायता से मिश्रित व्यावसायिक गतिविधियों को सम्पन्न किया जाता है।  किसी ऑर्गेनाइजेशन की ऑपरेशनल (Operational) गतिविधियों में लागू किए जाने वाले इनफॉर्मेशन सिस्टम का

Spreadsheet formatting and work in it : स्प्रेडशीट फॉरमैटिंग और उसमें कार्य

 स्प्रेडशीट फॉरमैटिंग और उसमें कार्य :- आज हम MS excel  के स्प्रेडशीट फॉरमैटिंग और उसमें कार्य  के बारे मे जानेगे क्या होता है? स्प्रेडशीट फॉरमैटिंग और उसमें कार्य हिन्दी में   तो चलिए शुरु करते हैं -  Excel में कार्य करने से पहले उसे अपने डेटा के अनुसार फॉरमैट करना पड़ता है। फॉरमैट करने के लिए यह जानना आवश्यक है कि हम किस - किस तरह के डेटा रखते हैं । सामान्यतः Excel में number , text या फॉर्मूले के रूप में कोई entry दे सकते हैं। Number (नम्बर):- 0 से 9 के आधार पर बनने वाली सभी संख्याएँ , दशमलव , # , % , + , - जैसे डेटा इस श्रेणी में आते हैं । Text:-  A से z तक वर्णमाला के सभी अक्षर एवं उनके प्रयोग से बनने वाले शब्द इस श्रेणी में आते हैं । Formula:- गणित के आधार पर कैलकुलेशन करने के लिए जो भी फॉर्मूले बनाते हैं , उन्हें = चिह्न से शुरू करके लिखते हैं । उदाहरण यदि CI , C2 , C3 , सेल के contents को जोड़ना चाहते हैं तो = C1 + C2 + C3 के रूप में फॉर्मूला लिखते हैं । Auto Correction Settings (ऑटो करेक्शन की सेटिंग):- कुछ ऐसे शब्द होते हैं जिनकी स्पेलिंग बार - बार गलत लिखने का हमारा अभ्यास

Excel and worksheet in hindi : Excel और वर्कशीट

 Ms excel introduction in hindi :- आज हम  ms excel introduction in hindi के बारे मे जानेगे क्या होता है तो चलिए शुरु करते हैं:- Spreadsheet kya hai :- Excel स्क्रीन का मुख्य और सबसे बड़ा भाग स्प्रेडशीट होती है , जो देखने में ग्राफ पेपर की तरह लगती है । स्प्रेडशीट यद्यपि आकार में बहुत बड़ी होती है और पूरी स्प्रेडशीट एक साथ स्क्रीन पर दिखाई नहीं देती , परंतु उसका ऊपरी बायाँ भाग स्क्रीन पर अवश्य दिखाया जाता है , जहाँ से डेटा इनपुट करना आरंभ कर सकते हैं । स्प्रेडशीट के प्रत्येक छोटे - छोटे खानों को सेल (cell) कहते हैं , जिन्हें अपने डेटा के आकार और प्रकार के अनुसार छोटा - बड़ा और फॉरमैट कर सकते हैं । Title:- बार टाइटल बार स्क्रीन पर एक पट्टी के रूप में उस प्रोग्राम का नाम दिखाता है , जिसमें स्टोर की गई स्प्रेडशीट कार्यरत होती है । इसके बाईं ओर pull down बटन रहता है , जिसमें कंट्रोल मेन्यू होता है । Excel से बाहर निकलने के लिए इस बटन पर डबल क्लिक कर सकते हैं । Excel से बाहर निकलने की यह सबसे आसान विधि है । मेन्यू बार :- मेन्यू बार में स्प्रेडशीट बनाने , फॉरमैट करने और नियंत्रित

Advance work in MS-Word : MS - Word में एडवांस कार्य

 Advanced work in MS-Word :- आज हम  ms word ke advance work के बारे मे जानेगे क्या होता है advance work ms word in hindi  तो चलिए शुरु करते हैं-  MS - Word के द्वारा सामान्य कार्य करना आप सीख चुके हैं । अब आप अन्य एडवांस कार्यों का अभ्यास करेंगे , जिनके द्वारा Find , Replace , Spell Check , Grammar Check , Clip Art कार्य करना सीखेंगे। Find words in MS - Word (MS - Word में शब्द ढूँढ़ना):- MS - Word में विकल्प द्वारा शब्द को ढूँढ़ने का काम किया जाता डॉक्यूमेंट में वह शब्द , जिसे आप find कर रहे हैं , जहाँ - जहाँ पर होगा , उसे ढूँढ़ा जा सकता है । इसके लिए निम्न स्टेप लेते हैं  1. Edit मेन्यू में माउस द्वारा Find विकल्प पर क्लिक करें या Ctrl + F टाइप करें तो एक डायलॉग बॉक्स आ जाता है । 2. उपर्युक्त डायलॉग बॉक्स में Find what विकल्प में वह शब्द टाइप करें , जिस शब्द को आप ढूँढ़ना चाहते हैं ।  3. अब Search विकल्प में से चुनाव करें । कर्सर से ऊपर या नीचे अथवा पूरे डॉक्यूमेंट में अंत तक या शुरू से Search करने के लिए Up , Down या AII में से किसी एक विकल्प को चुन सकते हैं । 4. यदि अक्षरों क

Introduction to ms word

Introduction ms word in hindi :- आज हम ms word ke introduction   के बारे मे जानेगे क्या होता है  Introduction ms word in hindi  तो चलिए शुरु करते हैं- Introduction to Microsoft office word  का एक अभिन्न अंग है । MS Word में डॉक्यूमेंट तैयार करने के लिए निम्न सुविधाएँ प्राप्त होती हैं MS - Word Window based सॉफ्टवेयर है , इस  सॉफ्टवेयर में हम माउस का प्रयोग कर सकते हैं ।  सॉफ्टवेयर में हम अपने डॉक्यूमेंट की स्पेलिंग और ग्रामर भी चेक कर सकते हैं । MS Word में हम किसी अन्य  सॉफ्टवेयर के डॉक्यूमेंट को भी प्लेस कर सकते हैं । - MS Word में हम क्लिप डीमेड चित्र ) का भी प्रयोग कर सकते हैं । How to load MS Word? ( MS Word कैसे लोड करें ? ) जब हम अपने कंप्यूटर को on करते हैं तो वह  Windows के desktop पर जाकर रुक जाता है । आगे के स्टेप हैं  1. Start बटन पर क्लिक करके  Programs में जाएँ और फिर MS Office में MS Word के आइकन पर माउस से क्लिक करें ।  2. इससे Word की screen आ जाती है । यदि आपकी स्क्रीन पर यहाँ normal स्क्रीन से कम या अधिक टूलबार दिखाई देते हैं तो चिंता क

Windows Vista : विंडोज विस्टा (Windows-VISTA) कि पूरी जानकारी

Windows Vista :- आज हम Windows vista  के नवीनतम  ऑपरेटिंग सिस्टम   (Windows vista operating system) के बारे मे जानेगे क्या होता है windows vista  तो चलिए शुरु करते हैं- विंडोज विस्टा एक नवीनतम  Operating system  है जिसे Microsoft campany   ने  Windows xp  से change और एडवांस बनाया है । Windows vista release date   जुलाई 2005 में इसकी घोषणा से पहले इसे ' लांगहान ' नाम दिया गया था । इसका विकास 6 नवंबर , 2006 को पूरा हुआ था और 30 जनवरी , 2007 को इसे बाजार में उतारा गया ।  विंडोज XP आने के लगभग पाँच साल बाद Windows vista  आया । अतः इतने अंतराल में  Hardware  और  Software  में किए गए बदलाव को Windows vista  में समाहित किया गया था । Windows vista  में कई नए गुण हैं जैसे विकसित  Graphic User Interface and Visual Style  , खोज के लिए उत्तम फीचर्स , मल्टीमीडिया के लिए नए किथसन वूल्स जैसे विंडोज डी.वी.डी. मेकर इत्यादि । Windows vista Hardware requirements (विस्टा के लिए आवश्यक हार्डवेयर) :- Windows vista  के लिए आवश्यक हार्डवेयर हैं  800 मेगाह्टृज , 32 बिट प्रोसेसर  1

Popular posts from this blog

कंप्यूटर की पीढियां । generation of computer in hindi language

generation of computer in hindi  :- generation of computer in hindi language ( कम्प्युटर की पीढियाँ):- कम्प्यूटर तकनीकी विकास के द्वारा जो कम्प्यूटर के कार्यशैली तथा क्षमताओं में विकास हुआ इसके फलस्वरूप कम्प्यूटर विभिन्न पीढीयों तथा विभिन्न प्रकार की कम्प्यूटर की क्षमताओं के निर्माण का आविष्कार हुआ । कार्य क्षमता के इस विकास को सन् 1964 में कम्प्यूटर जनरेशन (computer generation) कहा जाने लगा । इलेक्ट्रॉनिक कम्प्यूटर के विकास को सन् 1946 से अब तक पाँच पीढ़ियों में वर्गीकृत किया जा सकता है । प्रत्येक नई पीढ़ी की शुरुआत कम्प्यूटर में प्रयुक्त नये प्रोसेसर , परिपथ और अन्य पुर्षों के आधार पर निर्धारित की जा सकती है । ● First Generation of computer in hindi  (कम्प्युटर की प्रथम पीढ़ी) : Vacuum Tubes ( वैक्यूम ट्यूब्स) ( 1946 - 1958 ):- प्रथम इलेक्ट्रॉनिक ' कम्प्यूटर 1946 में अस्तित्व में आया था तथा उसका नाम इलैक्ट्रॉनिक न्यूमेरिकल इन्टीग्रेटर एन्ड कैलकुलेटर ( ENIAC ) था । इसका आविष्कार जे . पी . ईकर्ट ( J . P . Eckert ) तथा जे . डब्ल्यू . मोश्ले ( J . W .

पर्सनल कंप्यूटर | personal computer

पर्सनल कंप्यूटर क्या है? ( Personal Computer kya hai ?) :- personal computer definition :- ये Personal computer  क्या है शायद हम सभी लोगों यह  पता होगा क्यूंकि इसे हम अपने घरों में, offices में, दुकानों में देखते हैं  Personal computer (PC) किसी भी उपयोगकर्ता के उपयोग के लिए बनाये गए किसी भी छोटे और सस्ते कंप्यूटर का निर्माण किया गया । सभी कम्प्युटर Microprocessors के विकास पर आधारित हैं। Personal computer  का उदाहरण माइक्रो कंप्यूटर,  डेस्कटॉप कंप्यूटर, लैपटॉप कंप्यूटर, टैबलेट हैं। पर्सनल कंप्यूटर के प्रकार ( personal computer types ):- ● डेस्कटॉप कंप्यूटर (Desktop) ● नोटबुक (Notebook) ● टेबलेट (tablet) ● स्मार्टफोन (Smartphone) कम्प्युटर का इतिहास ( personal computer history) :- कम्प्यूटर के विकास   (personal computer evolution)  के आरम्भ में जो भी कम्प्यूटर विकसित किया जाता था , उसकी अपनी एक अलग ही संरचना होती थी । तथा अपना एक अलग ही नाम होता था । जैसे - UNIVAC , ENIAC , MARK - 1 आदि । सन् 1970 में जब INTEL CORP ने दुनिया का पहला माइक्रोप्रोसेसर (

कम्प्युटर कीबोर्ड क्या है और कीबोर्ड के प्रकार

कम्प्युटर कीबोर्ड क्या है ( keyboard in hindi ) की - बोर्ड लगभग टाइपराइटर के सामान ही होता है , फर्क सिर्फ इतना है कि टाइपराइटर में लगे बटनों की अपेक्षा की - बोर्ड के बटन आसानी से दबते हैं जिससे लम्बे समय तक कार्य करने में सुविधा रहती है । की - बोर्ड के बटनों में एक खास बात यह भी होती है कि किसी बटन को कुछ देर तक दबाए रखा जाये तो  वह स्वयं को repeats होता है ।  की - बोर्ड एक केबल के द्वारा कम्प्यूटर से जुड़ा होता है जिसका एक सिरा की - बोर्ड तथा दूसरा सिरा CPU के पीछे लगे एक सॉकेट में लगाया जाता है । टाइपराइटर की तुलना में की - बोर्ड में कई अधिक Keys होती हैं , जिनसे अनेक प्रकार के काम किये जाते है। की -  बोर्ड के सबसे ऊपर right side ओर तीन रोशनी देने वाली light लगी होती हैं । ये Caps Lock , Num Lock तथा Scroll Lock key की स्थिति दर्शाते रहते हैं । की - बोर्ड ( कुंजीपटल ) user के निर्देशों / आदेशों अथवा डाटा / सूचना को कम्प्यूटर में input कराने का महत्वपूर्ण माध्यम है तथा सर्वाधिक प्रचलित है इसके द्वारा सूचना / डाटा सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट को भेजा जाता है । Caps Lock / Num